Tuesday, 14 December 2021

हिमाचल सरकार ने सामान्य श्रेणी आयोग की स्थापना की

हिमाचल सरकार ने सामान्य श्रेणी आयोग की स्थापना की

 


हिमाचल प्रदेश सरकार (Himachal Pradesh govt) ने मध्य प्रदेश की तर्ज पर उच्च जातियों के लिए एक आयोग की स्थापना की घोषणा की। आयोग, जिसे 'सामान्य वर्ग आयोग (Samanya Varg Aayog)' के रूप में नामित किया जाएगा, को तीन महीने के समय में एक विधायी अधिनियम के माध्यम से औपचारिक रूप दिया जाएगा, जब राज्य विधानसभा की अगली बैठक फरवरी-मार्च 2021 में सदन के बजट सत्र के लिए होगी। हिमाचल प्रदेश में एक अनुसूचित जाति आयोग (Scheduled Caste Commission) पहले से ही चल रहा है और इसकी अध्यक्षता शिमला के पूर्व सांसद वीरेंद्र कश्यप (Virendra Kashyap) कर रहे हैं।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

हिन्दू रिव्यू नवम्बर 2021, Download Monthly Hindu Review PDF in Hindi


2011 की जनगणना के अनुसार, हिमाचल प्रदेश की जनसंख्या 68.56 लाख है, जिसमें 19.29 लाख, जो 25.22 प्रतिशत अनुसूचित जाति हैं, जबकि अन्य 4 लाख अनुसूचित जनजाति हैं, जो कि 5.71% है और अन्य 9.03 लाख ओबीसी हैं जो 13.52% है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • हिमाचल प्रदेश की राजधानी: शिमला (ग्रीष्मकालीन), धर्मशाला (शीतकालीन);
  • हिमाचल प्रदेश के राज्यपाल: राजेंद्र अर्लेकर;
  • हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री: जय राम ठाकुर।


Find More State In News Here

Haiderpur wetland in Uttar Pradesh recognised as Ramsar Site_90.1

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search