Wednesday, 1 September 2021

PayU ने बिलडेस्क का 4.7 अरब डॉलर में अधिग्रहण किया

PayU ने बिलडेस्क का 4.7 अरब डॉलर में अधिग्रहण किया

 


नीदरलैंड स्थित प्रोसस एनवी (Prosus NV) ने भारतीय डिजिटल भुगतान प्रदाता बिलडेस्क का अधिग्रहण करने और इसे अपने स्वयं के फिनटेक सेवा व्यवसाय PayU के साथ विलय करने की घोषणा की है। सौदे 4.7 अरब डॉलर का है। यह अधिग्रहण PayU और BillDesk की संयुक्त इकाई को वैश्विक स्तर पर और भारत में कुल भुगतान मात्रा (total payment volume - TPV) द्वारा अग्रणी ऑनलाइन भुगतान प्रदाता बना देगा।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

सौदे के बारे में:

  • लेनदेन भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (Competition Commission of India - CCI) से अनुमोदन के अधीन है।
  • यह अधिग्रहण भारत में प्रोसस के निवेश को भी 10 अरब डॉलर तक बढ़ा देगा, जिसने अब तक भारतीय तकनीकी पारिस्थितिकी तंत्र में 6 अरब डॉलर का निवेश किया है।
  • Prosus NV वैश्विक उपभोक्ता इंटरनेट समूह है और दुनिया के सबसे बड़े प्रौद्योगिकी निवेशकों में से एक है।


सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • PayU सीईओ: लॉरेंट ले मोल (Laurent le Moal);
  • PayU की स्थापना: 2006;
  • बिलडेस्क के संस्थापक: एम.एन. श्रीनिवासु; अजय कौशल; कार्तिक गणपति;
  • बिलडेस्क मुख्यालय: मुंबई;
  • बिलडेस्क की स्थापना: 29 मार्च 2000।


Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search