Wednesday, 6 January 2021

भारत सरकार ने दक्षिण एशिया ऊर्जा सुरक्षा के लिए उच्च स्तरीय समूह का किया गठन

भारत सरकार ने दक्षिण एशिया ऊर्जा सुरक्षा के लिए उच्च स्तरीय समूह का किया गठन

केंद्र सरकार द्वारा दक्षिण एशिया केंद्रित ऊर्जा सुरक्षा वास्तुकला (South Asia-focused energy security architecture) के निर्माण के लिए एक उच्च-स्तरीय समूह का गठन किया गया है। साउथ एशिया ग्रुप फॉर एनर्जी (SAGE) नाम के उच्च स्तरीय समूह का नेतृत्व पूर्व केंद्रीय ऊर्जा सचिव राम विनय शाही करेंगे। SAGE की स्थापना विदेश मंत्रालय (MEA) के थिंक टैंक रिसर्च एंड इंफॉर्मेशन सिस्टम फॉर डेवलपिंग कंट्रीज़ (RIS) के तहत की गई है।


उद्देश्य:

इसकी  दक्षिण एशियाई देशों के बीच ऊर्जा और संबंधित मुद्दों के लिए द्विपक्षीय, उप-क्षेत्रीय और क्षेत्रीय आधार पर प्रभावी नीति संवाद और क्षमता निर्माण को बढ़ावा देने, आरंभ करने और सुविधा प्रदान करके, आपसी समझ और सहयोग के माध्यम से ऊर्जा अवसरचना का संतुलित और अधिकतम विकास करने के लिए की गई थी।


WARRIOR 4.0 | Banking Awareness Batch for SBI, RRB, RBI and IBPS Exams | Bilingual | Live Class


SAGE के अन्य सदस्य:

  • अमर सिन्हा, विदेश मंत्रालय के पूर्व आर्थिक संबंध सचिव और अफगानिस्तान में भारत के पूर्व राजदूत;
  • प्रीति सरन, विदेश मंत्रालय में ईस्ट की पूर्व सचिव ;
  • चंदन कुमार मोंडोल, एनटीपीसी लिमिटेड, भारत की सबसे बड़ी बिजली उत्पादन उपयोगिता के वाणिज्यिक निदेशक;
  • राकेश नाथ, केंद्रीय विद्युत प्राधिकरण के पूर्व अध्यक्ष, ऊर्जा क्षेत्र की योजना तैयार करने के लिए शीर्ष निकाय;
  • अनिल सरदाना, प्रबंध निदेशक, अदानी पावर; तथा
  • दीपक अमिताभ, पीटीसी इंडिया लिमिटेड के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक, देश के सबसे बड़े बिजली कारोबारी हैं।

Find More National News Here

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search