Home   »   पैरालिंपिक भाला फेंक खिलाड़ी, सुमित अंतिल...

पैरालिंपिक भाला फेंक खिलाड़ी, सुमित अंतिल ने विश्व रिकॉर्ड तोड़ दिया

पैरालिंपिक भाला फेंक खिलाड़ी, सुमित अंतिल ने विश्व रिकॉर्ड तोड़ दिया |_30.1

भाला फेंक में वर्तमान पैरालंपिक चैंपियन, सुमित अंतिल ने बुधवार को F64 श्रेणी में 73.29 मीटर का असाधरण थ्रो हासिल किया। उन्होनें अपने पिछले विश्व रिकॉर्ड 70.83 मीटर को पीछे छोड़ दिया।

मौजूदा पैरालिंपिक चैंपियन सुमित अंतिल ने बुधवार को 73.29 मीटर के शानदार प्रयास के साथ अपने ही भाला फेंक F64 विश्व रिकॉर्ड को बेहतर बनाया और स्वर्ण पदक जीता, उन्होंने हांग्जो एशियाई पैरा खेलों में प्रतियोगिताओं के तीसरे दिन भारत के 30 पदकों की बढ़त का नेतृत्व किया।

F64 श्रेणी

F64 श्रेणी एक पैर विच्छेदन वाले एथलीटों से संबंधित है जो प्रोस्थेटिक्स का उपयोग करके खड़े होने की स्थिति वाले ईवेंट में भाग लेते हैं।

भारत का प्रभावशाली पदक

तीन दिनों के बाद भारत की कुल पदक संख्या 64 (15 स्वर्ण, 20 रजत, 29 कांस्य) रही और वे मंगलवार से एक स्थान नीचे अर्थात छठे स्थान पर हैं।

पदक तालिका में चीन का दबदबा

चीन 300 पदक (118 स्वर्ण, 96 रजत, 86 कांस्य) के साथ शीर्ष पर कायम रहा, उसके बाद ईरान (24, 30, 19), जापान (20, 21, 28), थाईलैंड (20, 13,30) और उज़्बेकिस्तान (17, 17, 21) रहे।

भारतीय एथलीटों के लिए एक ऐतिहासिक दिन

यह भारत के लिए सबसे अधिक प्रोडक्टिव दिन था, जिसमें 30 में से 17 पदक और सभी छह स्वर्ण एथलेटिक्स से आए।

सुमित अंतिल की उल्लेखनीय उपलब्धि

पैरालिंपिक भाला फेंक खिलाड़ी, सुमित अंतिल ने विश्व रिकॉर्ड तोड़ दिया |_40.1

25 वर्षीय एंटिल ने 70.83 मीटर का अपना ही पिछला विश्व रिकॉर्ड तोड़ दिया, जो उन्होंने इस वर्ष की शुरुआत में पेरिस में विश्व पैरा एथलेटिक्स चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतते समय बनाया था। सुमित अंतिल के आश्चर्यजनक 73.29 मीटर थ्रो ने न केवल उनके लिए स्वर्ण पदक सुरक्षित किया, बल्कि उनकी असाधारण प्रतिभा और दृढ़ संकल्प का भी प्रदर्शन किया।

सुमित अंतिल: पुरस्कार

वर्ष पुरस्कार महत्व
2021 खेल रत्न पुरस्कार भारत का सर्वोच्च खेल सम्मान
2022 पद्म श्री पुरस्कार भारत में चौथा सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार

अन्य रिकार्ड्स

अंकुर धामा

अंकुर धामा ने एशियाई पैरा खेलों के एक ही संस्करण में दो स्वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय बनकर इतिहास रच दिया। उन्होंने पुरुषों की 1500 मीटर-T11 दौड़ में 4:27.70 का समय लेते हुए जीत प्राप्त की। इससे पहले सप्ताह में, उन्होंने पुरुषों की 5000 मीटर-T11 दौड़ में भी स्वर्ण पदक जीता था।

सुंदर सिंह गुर्जर

एक अन्य उत्कृष्ट प्रदर्शन में, एक अन्य भारतीय एथलीट सुंदर सिंह गुर्जर ने न केवल पुरुषों की F46 भाला फेंक में स्वर्ण पदक जीता, बल्कि 68.60 मीटर के असाधरण थ्रो के साथ एक नया विश्व रिकॉर्ड भी बनाया। 67.79 मीटर का पिछला विश्व रिकॉर्ड श्रीलंका के दिनेश मुदियानसेलेज हेराथ के नाम था।

 

FAQs

ईरान की राजधानी का क्या नाम है?

ईरान की राजधानी तेहरान (Tehran) है।

TOPICS: