Monday, 13 December 2021

एलआईसी को इंडसइंड बैंक में हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए आरबीआई की मंजूरी मिली

एलआईसी को इंडसइंड बैंक में हिस्सेदारी बढ़ाने के लिए आरबीआई की मंजूरी मिली

 


भारतीय जीवन बीमा निगम (Life Insurance Corporation - LIC) को निजी क्षेत्र के ऋणदाता की कुल जारी और चुकता पूंजी में इंडसइंड बैंक (IndusInd Bank) में अपनी हिस्सेदारी 99 प्रतिशत तक बढ़ाने के लिए भारतीय रिजर्व बैंक से मंजूरी मिल गई है। यह मंजूरी 1 साल के लिए यानी 8 दिसंबर 2022 तक वैध होगी। फिलहाल इंडसइंड बैंक में एलआईसी की 4.95 फीसदी हिस्सेदारी है। हाल ही में एलआईसी को भी इसी तरह की मंजूरी कोटक महिंद्रा बैंक (Kotak Mahindra Bank) में अपनी हिस्सेदारी बढ़ाकर 9.99 फीसदी करने के लिए आरबीआई से मिली थी।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

हिन्दू रिव्यू नवम्बर 2021, Download Monthly Hindu Review PDF in Hindi


एलआईसी निवेश के बारे में:

  • एलआईसी भारत के शेयर बाजार में सबसे बड़े संस्थागत निवेशकों में से एक है और कई निजी और सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों में इसकी हिस्सेदारी है। कैपिटललाइन के आंकड़ों से पता चलता है कि 24 अनुसूचित वाणिज्यिक बैंकों में इसकी हिस्सेदारी है।
  • आईडीबीआई बैंक में इसकी 49.24 फीसदी हिस्सेदारी है। अन्य प्रमुख बैंकों में एलआईसी की केनरा बैंक में 8.8 फीसदी, पंजाब नेशनल बैंक और स्टेट बैंक ऑफ इंडिया में 8.3 फीसदी, एक्सिस बैंक में 8.2 फीसदी और आईसीआईसीआई बैंक में 7.6 फीसदी हिस्सेदारी है।


सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • एलआईसी अध्यक्ष: एम आर कुमार;
  • एलआईसी मुख्यालय: मुंबई;
  • एलआईसी की स्थापना: 1 सितंबर 1956।


Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search