Home   »   विश्व हिंदी दिवस 2024: इतिहास और...

विश्व हिंदी दिवस 2024: इतिहास और महत्व

विश्व हिंदी दिवस 2024: इतिहास और महत्व |_30.1

दुनियाभर में हिंदी के प्रचार-प्रसार के लिए वातावरण निर्मित करने और हिंदी को अंतर्राष्ट्रीय भाा के रूप में प्रस्तुत करने के उद्देश्य से पिछले कई सालों से 10 जनवरी को विश्व हिंदी दिवस मनाया जा रहा है। भारत में हिंदी दिवस 14 सितंबर को मनाया जाता है। इस दिन को मनाने की शुरुआत आजादी के तुरंत बाद हुई। 14 सितंबर 1946 को संविधान सभा ने देवनागरी लिपि में लिखी हिंदी को भारत की आधिकारिक भाषा स्वीकार किया। विश्व में हिन्दी का विकास करने और एक अंतरराष्ट्रीय भाषा के तौर पर इसे प्रचारित-प्रसारित करने के उद्देश्य से विश्व हिन्दी सम्मेलनों की शुरुआत की गई।

विश्व हिंदी दिवस 2024 की थीम

हर साल हिंदी दिवस अलग-अलग थीम पर बनाया जाता है। इस साल की थीम विश्व हिंदी दिवस सम्मेलन का फोकस हिंदी पारंपिरक ज्ञान और कृत्रिम बुद्दिमत्ता पर केंद्रित रहेगा।

 

हिंदी: आधिकारिक भाषा

हिंदी पूरी दुनिया में बोली जाने वाली पांच भाषाओं में से एक है। विश्व भर के करोड़ों लोग आज हिंदी बोलते हैं। दक्षिण प्रशांत महासागर के मेलानेशिया में फिजी नाम का एक द्वीप है, जहां पर हिंदी को आधिकारिक भाषा का दर्जा प्राप्त है। विश्व आर्थिक मंच की गणना के अनुसार, हिंदी विश्व की 10 शक्तिशाली भाषाओं में से एक है। साल 2017 में ऑक्सफोर्ड डिक्शनरी बच्चा, बड़ा दिन, अच्छा, सूर्य नमस्कार जैसे शब्द जोड़े गए हैं।

 

विश्व हिंदी दिवस का इतिहास

हर साल 10 जनवरी को दुनियाभर में विश्व हिंदी दिवस मनाया जाता है। पहली बार नागपुर में 10 जनवरी 1975 को विश्व हिंदी सम्मेलन का आयोजन किया गया था, जिसमें 30 देशों के 122 प्रतिनिधि। शामिल हुए थे। उसके बाद भारत के बाहर मॉरिशस, यूनाइटेड किंगडम, त्रिनिदाद, अमेरिका आदि देशों में भी विश्व हिंदी सम्मेलन का आयोजन किया गया।

 

विश्व हिंदी दिवस 2024: इतिहास और महत्व |_40.1

FAQs

विश्व पर्यावरण दिवस कब मनाया जाता है?

विश्व पर्यावरण दिवस (World Environment Day) पर्यावरण की सुरक्षा और संरक्षण हेतु पूरे विश्व में 5 जून को मनाया जाता है।