Home   »   नाटो के पूर्व जनरल पेट्र पावेल...

नाटो के पूर्व जनरल पेट्र पावेल बने चेक गणराज्य के नए राष्ट्रपति

नाटो के पूर्व जनरल पेट्र पावेल बने चेक गणराज्य के नए राष्ट्रपति_3.1

उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) सैन्य समिति के पूर्व अध्यक्ष पेट्र पावेल 28 जनवरी 2023 को चेक गणराज्य के नए राष्ट्रपति बन गए। पेट्र पावेल ने अपने प्रतिद्वंदी और विवादास्पद राष्ट्रपति मिलोस जमैन को बदलने के लिए एक रन-ऑफ वोट में अरबपति लेडी बैबिस को हरा दिया। सांख्यिकी कार्यालय के अनुसार पावेल को 58 प्रतिशत से अधिक वोट मिले। जीत के बाद पावेल ने लोगों का धन्यवाद किया और कहा कि आप सभी ने वोट देकर लोकतंत्र का सम्मान किया और इस देश की परवाह की।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

चुनाव के दौरान जनरल पावेल को 58.2 प्रतिशत वोट मिले जबकि आंद्रेज बेबिस के पक्ष में 42.8 मत पड़े। सेवानिवृत्त जनरल पेट्र पावेल विवादास्पद मौजूदा राष्ट्रपति मिलोस जमैन की जगह लेंगे। पावेल यूरोपीय संघ और नाटो के मुखर समर्थक रहे हैं, चेक गणराज्य के भविष्य को उनकी सदस्यता से अभिन्न रूप से जोड़कर देखते हैं। पावेल ने बार-बार रूस के साथ संघर्ष के दौरान यूक्रेन को सैन्य और मानवीय सहायता प्रदान करने वाले देशों के लिए अपना समर्थन व्यक्त किया है।

 

जनरल पावेल के बारे में

 

  • जनरल पावेल उत्तर अटलांटिक संधि संगठन (नाटो) की सैन्य समिति के अध्यक्ष रह चुके हैं।
  • जनरल पावेल यूरोपीय संघ और नाटो के मुखर समर्थक रहे हैं।
  • पावेल ने रूस-यूक्रेन संघर्ष के दौरान यूक्रेन को सैन्य और मानवीय सहायता प्रदान करने के लिए बार-बार अपना समर्थन व्यक्त किया है।

FATF Blacklists Myanmar, Calls for Due Diligence To Transactions in Nation_70.1

FAQs

चेक गणराज्य कौन सा देश है?

चॆक गणराज्य यूरोप महाद्वीप में स्थित एक देश है। इसकी उत्तर पूर्वी सीमा पर पोलैण्ड, पश्चिमी सीमा पर जर्मनी, दक्षिण में ऑस्ट्रिया और पूर्व में स्लोवाकिया है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *