Home   »   भारतीय रिजर्व बैंक ने वेज़ एंड...

भारतीय रिजर्व बैंक ने वेज़ एंड मीन्स अग्रिम की सीमाएं तय की

भारतीय रिजर्व बैंक ने वेज़ एंड मीन्स अग्रिम की सीमाएं तय की |_20.1
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने भारत सरकार के परामर्श से वित्तीय वर्ष 2019-20 (अप्रैल 2019 से सितंबर 2019) की पहली छमाही के लिए वेज़ एंड मीन्स अग्रिम ( WMA) की सीमा 75000 करोड़ रुपये निर्धारित की है। यदि भारतीय सरकार डब्ल्यूएमए सीमा का 75% उपयोग करती है, तो रिज़र्व बैंक बाज़ार ऋणों के नए प्रवर्तन को चालू कर सकता है।
 
 WMA का वास्तविक अर्थ क्या है?
  • डब्ल्यूएमए केंद्र और राज्य सरकारों को आरबीआई द्वारा प्रदान की गई अस्थायी ऋण की सुविधा है।
  • डब्ल्यूएमए योजना को 1997 में सरकार की प्राप्तियों और भुगतान में किसी भी अस्थायी असंतुलन को पूरा करने के लिए पेश किया गया था।

TOPICS:

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *