Home   »   न्यायमूर्ति आलोक अराधे बने हैदराबाद में...

न्यायमूर्ति आलोक अराधे बने हैदराबाद में तेलंगाना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश

न्यायमूर्ति आलोक अराधे बने हैदराबाद में तेलंगाना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश |_30.1

न्यायमूर्ति आलोक अराधे ने 23 जुलाई को हैदराबाद में राजभवन में आयोजित एक औपचारिक कार्यक्रम में तेलंगाना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली।

न्यायमूर्ति आलोक अराधे ने 23 जुलाई को हैदराबाद में राजभवन में आयोजित एक कार्यक्रम में राज्यपाल तमिलिसाई सौंदरराजन द्वारा तेलंगाना उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश के रूप में शपथ ली।

न्यायमूर्ति आलोक अराधे ने न्यायमूर्ति उज्जल भुइयां का स्थान लिया, जिन्हें सर्वोच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में पदोन्नत किया गया था।

मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव और उनके मंत्रिमंडल के कुछ सहयोगी न्यायमूर्ति आलोक अराधे के शपथ ग्रहण समारोह में मौजूद थे, जिनमें के केशव राव और नामा नागेश्वर राव शामिल थे। TPCC अध्यक्ष ए रेवंत रेड्डी, जन प्रतिनिधियों, नौकरशाहों और न्यायपालिका के अन्य प्रमुख सदस्यों ने इस कार्यक्रम में भाग लिया।

जस्टिस आलोक अराधे:

आलोक अराधे का जन्म 13 अप्रैल 1964 को हुआ था। उनका जन्म तत्कालीन मध्य प्रदेश के रायपुर में हुआ था। उन्होंने B.Sc और एलएलबी किया है।

करियर :

न्यायमूर्ति आलोक अराधे ने 1988 से जबलपुर में अपनी प्रैक्टिस शुरू की, जहां उन्होंने सिविल, संवैधानिक, मध्यस्थता और कंपनी के मामलों को निपटाया। उन्हें दिसंबर 2009 में मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय का अतिरिक्त न्यायाधीश नियुक्त किया गया था। बाद में, उन्हें फरवरी 2011 में स्थायी न्यायाधीश के रूप में नियुक्त किया गया था। 17 नवंबर, 2018 को न्यायमूर्ति अराधे को कर्नाटक उच्च न्यायालय में स्थानांतरित कर दिया गया। उनका उच्च न्यायालय के न्यायाधीश के रूप में कार्यकाल 2026 तक है।

FAQs

आलोक अराधे का जन्म कब और कहाँ हुआ था ?

आलोक अराधे का जन्म 13 अप्रैल 1964 को हुआ था। उनका जन्म तत्कालीन मध्य प्रदेश के रायपुर में हुआ था।