Home   »   भारत ने 2023-24 में अब तक...

भारत ने 2023-24 में अब तक रिकार्ड 41,010 पेटेंट दिए

भारत ने 2023-24 में अब तक रिकार्ड 41,010 पेटेंट दिए_3.1

वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने कहा है कि भारतीय पेटेंट कार्यालय ने इस वित्त वर्ष में 15 नवंबर 2023 तक 41,010 पेटेंट प्रदान किए हैं, जो सर्वाधिक हैं। इसको लेकर गोयल ने इंटरनेट मीडिया प्लेटफार्म X पर लिखा, ‘यह एक रिकार्ड है। 2023-24 में सर्वाधिक पेटेंट दिए गए।

भारतीय पेटेंट कार्यालय ने 15 नवंबर 2023 तक 41,010 पेटेंट प्रदान किए हैं, जो एक रिकॉर्ड बन गया है। इस पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि यह एक ‘उल्लेखनीय उपलब्धि’ है। यह नवाचार-संचालित ज्ञान अर्थव्यवस्था की दिशा में भारत की यात्रा में एक मील का पत्थर है। उन्होंने कहा, ‘भारत के युवाओं को इस तरह की प्रगति से काफी फायदा होगा।’

हाल ही में प्रधानमंत्री ने कहा था कि भारत में पेटेंट आवेदनों में वृद्धि यहां के युवाओं के बढ़ते नवोन्मेषी उत्साह को दर्शाती है यह भविष्य के लिए एक बहुत ही सकारात्मक संकेत है। विश्व बौद्धिक संपदा संगठन की रिपोर्ट के अनुसार, 2022 में भारतीयों द्वारा पेटेंट आवेदनों में 31.6 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी।

 

Find More National News Here

 

भारत ने 2023-24 में अब तक रिकार्ड 41,010 पेटेंट दिए_4.1

FAQs

पेटेंट का मुख्य उद्देश्य क्या है?

इसका उद्देश्य नई वस्तुओं के आविष्कार को मोटिवेट करना था। इसी के बाद भारत में 3 मार्च 1856 को कलकत्ता के सिविल इंजीनियर जॉर्ज अल्फ्रेड डेपेनिंग ने पेटेंट के लिए तत्कालीन सरकार के समक्ष आवेदन दिया था। 2 सितम्बर को डेपेनिंग को पेटेंट मिल गया, इस प्रकार इसे भारत का पहला पेटेंट माना जाता है।