Home   »   हार्वर्ड विश्वविद्यालय ने क्लाउडिन गे को...

हार्वर्ड विश्वविद्यालय ने क्लाउडिन गे को पहले अश्वेत राष्ट्रपति के रूप में नामित किया

हार्वर्ड विश्वविद्यालय ने क्लाउडिन गे को पहले अश्वेत राष्ट्रपति के रूप में नामित किया |_30.1

क्लाउडाइन गे (Claudine Gay) हार्वर्ड यूनिवर्सिटी की 30वीं अध्यक्ष बनेंगी। इसी के साथ वे आइवी लीग स्कूल का नेतृत्व करने वाली पहली अश्वेत शख्स बन जाएंगी। 52 वर्षीय गे हार्वर्ड प्रमुख के लिए चुनी जाने वाली दूसरी महिला हैं। गे फिलहाल यूनिवर्सिटी की डीन और डेमोक्रेसी स्कॉलर हैं। क्लाउडाइन गे 01 जुलाई 2023 से अपना पद भार संभालेंगी। वह लॉरेंस बेको की जगह लेंगी। बेको परिवार के साथ समय बिताने के लिए अपना पद छोड़ रहे हैं।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

गे को अमेरिकी राजनीतिक भागीदारी के मुद्दे पर अग्रणी आवाज माना जाता है। वह हार्वर्ड की असमानता की संस्थापक अध्यक्ष भी हैं, जो कि वैश्विक परिप्रेक्ष्य में गरीबी और शैक्षिक अवसर पर अभाव और अमेरिकी असमानता जैसे मुद्दों पर रिसर्च करती है। गे की नियुक्ति के बाद आइवी लीग स्कूलों के प्रमुखों के रूप में महिलाएं पुरुषों से अधिक हो जाएंगी। गे ने 2018 में हार्वर्ड के Arts and Sciences फैकल्टी की कमान संभाली थी।

 

डार्टमाउथ और पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय ने इस साल की शुरुआत में प्रमुख के रुप में महिलाओं को नियुक्त किया था। कोलंबिया, प्रिंसटन और येल यूनिवर्सिटी का नेतृत्व पुरुषों द्वारा किया जाता है। Drew Faust हार्वर्ड की अध्यक्ष बनने वाली पहली महिला थीं। उन्होंने 11 साल बाद 2018 में पद छोड़ दिया था।

 

हार्वर्ड विश्वविद्यालय ने क्लाउडिन गे को पहले अश्वेत राष्ट्रपति के रूप में नामित किया |_40.1

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *