Home   »   Q4 में GDP वृद्धि दर 6.7%...

Q4 में GDP वृद्धि दर 6.7% और FY24 में लगभग 7% रहने की संभावना: Ind-RA

Q4 में GDP वृद्धि दर 6.7% और FY24 में लगभग 7% रहने की संभावना: Ind-RA_3.1

भारतीय अर्थव्यवस्था ने 2023-24 वित्तीय वर्ष की पहली तीन तिमाहियों में मजबूत वृद्धि दिखाई, जिसमें जून तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद में 8.2%, सितंबर तिमाही में 8.1% और दिसंबर तिमाही में 8.4% की वृद्धि हुई। इंडिया रेटिंग्स एंड रिसर्च (इंड-रा) का अनुमान है कि मार्च तिमाही में सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) की वृद्धि दर 6.7 प्रतिशत और पूरे वित्त वर्ष के लिए 6.9 से 7 प्रतिशत रहेगी। Q4 के लिए आधिकारिक GDP नंबर और FY24 के लिए अनंतिम अनुमान 31 मई को जारी किए जाएंगे।

त्रैमासिक प्रदर्शन

  • जून क्वॉर्टर: जीडीपी ग्रोथ 8.2% रहेगी
  • सितंबर तिमाही: जीडीपी ग्रोथ 8.1% रहेगी
  • दिसंबर तिमाही: जीडीपी ग्रोथ 8.4% रही

विकास को प्रभावित करने वाले कारक

पहली दो तिमाहियों में वृद्धि दरें निम्न आधार प्रभाव से लाभान्वित हुईं। तीसरी तिमाही में आश्चर्यजनक 8.4% की वृद्धि में उच्च कर संग्रह का महत्वपूर्ण योगदान था, जिससे GDP और सकल मूल्य वर्धित (GVA) के बीच एक उल्लेखनीय अंतर पैदा हुआ। Q3 में, जहाँ GVA 6.5% पर था, वहीं GDP 8.4% तक पहुँच गया, जो इस कर संग्रह वृद्धि के कारण हुआ। यह स्थिति चौथी तिमाही में दोहराई जाने की संभावना नहीं है, जो 6.7%बढ़ने का अनुमान है।

रिजर्व बैंक और राजकोषीय अनुमान

भारतीय रिजर्व बैंक ने अपनी अप्रैल की मौद्रिक नीति समीक्षा में 2023-24 के लिए 7% की जीडीपी वृद्धि दर का अनुमान लगाया था। सिन्हा को उम्मीद है कि चालू वित्त वर्ष में जीडीपी की वृद्धि दर 7.1 प्रतिशत रहेगी, जो पहली छमाही में देखी गई गति को जारी रखेगी।

क्षेत्रीय योगदान और भविष्य का दृष्टिकोण

  • सेवा क्षेत्र: निर्माण और बिजली के नेतृत्व में, गति बनाए रखने की उम्मीद है।
  • लैगिंग सेक्टर: खनन और औद्योगिक उत्पादन।
  • ग्रामीण मांग: सामान्य से अधिक अनुमानित मानसून ग्रामीण मांग को पुनर्जीवित कर सकता है, जिससे व्यापक खपत का समर्थन हो सकता है।

मंत्रालय और आर्थिक समीक्षा

वित्त मंत्रालय ने भारत की लचीली वृद्धि, मजबूत आर्थिक संकेतकों, मूल्य स्थिरता और स्थिर बाहरी क्षेत्र के प्रदर्शन पर प्रकाश डाला। वैश्विक अनिश्चितताओं के बावजूद, भारत अंतरराष्ट्रीय संगठनों और आरबीआई दोनों द्वारा समर्थित सकारात्मक विकास दृष्टिकोण के साथ सबसे तेजी से बढ़ती प्रमुख अर्थव्यवस्था बनी हुई है।

Q4 में GDP वृद्धि दर 6.7% और FY24 में लगभग 7% रहने की संभावना: Ind-RA_4.1

FAQs

आईएमएफ का कार्य क्या है?

आईएमएफ एक अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय संस्था है जो अपने सदस्य देशों की वैश्विक आर्थिक स्थिति पर नज़र रखने का कार्य करती है।

TOPICS: