Home   »   53वें आईएफएफआई में संस्कृत यानम में...

53वें आईएफएफआई में संस्कृत यानम में बनी पहली विज्ञान डॉक्यूमेंट्री दिखाई गई

53वें आईएफएफआई में संस्कृत यानम में बनी पहली विज्ञान डॉक्यूमेंट्री दिखाई गई |_50.1

विश्व सिनेमा के इतिहास में पहला विज्ञान-संस्कृत वृत्तचित्र, ‘यनम’, जो भारत के सफल मंगलयान मिशन के इर्द-गिर्द घूमता है, गोवा के पंजिम में भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव (आईएफएफआई) के 53वें संस्करण में भारतीय पैनोरमा खंड के तहत प्रदर्शित किया गया था। 20-28 नवंबर 2022 तक पणजी में आयोजित होने वाले 53वें आईएफएफआई का आयोजन नेशनल फिल्म डेवलपमेंट कॉरपोरेशन और एंटरटेनमेंट सोसाइटी ऑफ गोवा द्वारा किया गया था।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

भारत के ऐतिहासिक मार्स ऑर्बिटर मिशन (एमओएम) उर्फ ‘मंगलयान’ को 2013 में भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) द्वारा सफलतापूर्वक लॉन्च किया गया था। यह पूर्व इसरो अध्यक्ष पद्म भूषण डॉ. के. राधाकृष्णन की आत्मकथात्मक पुस्तक “माई ओडिसी: मेमोयर्स ऑफ द मैन बिहाइंड द मंगलयान मिशन” पर आधारित है। 45 मिनट की डॉक्यूमेंट्री हर तरह से एक संपूर्ण संस्कृत फिल्म है और इसकीपूरी स्क्रिप्ट और संवाद प्राचीन संस्कृत भाषा में हैं। फिल्म का निर्माण एवी अनूप ने अपने बैनर एवीए प्रोडक्शंस के तहत इसरो के पूर्ण सहयोग से किया है। फिल्म का प्रीमियर 21 अगस्त 2022 को चेन्नई में हुआ था।

Find More Miscellaneous News Here

 

53वें आईएफएफआई में संस्कृत यानम में बनी पहली विज्ञान डॉक्यूमेंट्री दिखाई गई |_60.1

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *