Home   »   जिम्बाब्वे के दूसरी बार राष्ट्रपति चुने...

जिम्बाब्वे के दूसरी बार राष्ट्रपति चुने गए एमर्सन मंगाग्वा

जिम्बाब्वे के दूसरी बार राष्ट्रपति चुने गए एमर्सन मंगाग्वा_3.1

जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति एमर्सन मंगाग्वा (Zimbabwe President Emmerson Mnangagwa) को 26 अगस्त 2023 को दूसरे और अंतिम कार्यकाल के लिए फिर से चुन लिया गया है। एमर्सन मंगाग्वा ने राष्ट्रपति चुनाव में नेल्सन चामिसा को हराया है, जो उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी थे। मंगाग्वा की इस जीत ने जिम्बाब्वे की सत्ता पर ZANY-PF की पकड़ मजबूत कर दी। जिम्बाब्वे चुनाव आयोग ने राजधानी हरारे में देर रात घोषणा की कि मंगागवा को 52.6 प्रतिशत, जबकि मुख्य विपक्षी नेता नेल्सन चामीसा को 44 प्रतिशत मत मिले हैं।

दोबारा राष्ट्रपति चुने जाने के बाद मंगाग्वा के सामने कई चुनौतियां हैं। जिम्बाव्वे पिछले दो दशकों से विनाशकारी आर्थिक नीतियों का सामना कर रहा है, जिसके चलते देश में महंगाई और बेरोजगारी बढ़ गई है। देश में दवाओं और उपकरणों की भी कमी है। मंगाग्वा के जीतने के बाद अब जिम्बाब्वे का पश्चिमी देशों से तनाव बढ़ सकता है, जिन्होंने 18 अरब अमेरिकी डॉलर के कर्ज से निपटने में मदद करने के बदले में देश में बेहतर लोकतंत्र और मानवाधिकारों के सम्मान की मांग की है।

 

जिम्बाब्वे की आबादी 16 मिलियन

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, जिम्बाब्वे की आबादी 16 मिलियन (एक करोड़ 60 लाख) है। यह अफ्रीका महाद्वीप में स्थित हैं। यहां चुनाव में अनियमितताओं का इतिहास रहा है, जिसकी बदौलत रॉबर्ट मुगाबे, जो एक मुक्तिवादी नेता से निरंकुश बन गए थे, को लगभग चार दशकों तक सत्ता बनाए रखने में मदद मिली।

मुगाबे को 2017 में मंगाग्वा और उसके सहयोगियों द्वारा सत्ता से बेदखल कर दिया गया। अगले वर्ष, मंगाग्वा ने चुनाव में चामिसा को हराकर जीत हासिल की। उन्हें 50 प्रतिशत से अधिक वोट मिले। इस साल 23 अगस्त को हुए मतदान में कुछ मतदान स्थानों पर दस घंटे से अधिक की देरी हुई, क्योंकि देश का चुनाव आयोग समय पर मतपत्र वितरित करने में विफल रहा।

 

एमर्सन मंगाग्वा को जिम्बाब्वे के राष्ट्रपति चुनाव का विजेता घोषित किया गया है और उन्होंने देश के नेता के रूप में दूसरा कार्यकाल हासिल किया है। जिम्बाब्वे चुनाव आयोग (जेडईसी) ने 52.6% वोट के साथ मनांगाग्वा को विजेता घोषित किया, जबकि उनके निकटतम प्रतिद्वंद्वी, सिटीजन्स कोएलिशन फॉर चेंज (सीसीसी) के नेल्सन चामिसा 44% से पीछे रहे।

 

आर्थिक संघर्ष और लंबे समय से चली आ रही खाद्य असुरक्षा

दूसरा कार्यकाल हासिल करने के बावजूद, मनांगाग्वा के राष्ट्रपति पद पर जिम्बाब्वे की अर्थव्यवस्था को संभालने को लेकर आलोचना हुई है। देश में बेरोजगारी और गरीबी का उच्च स्तर कायम है, जिसे कभी दक्षिणी अफ्रीका की रोटी की टोकरी माना जाता था। अच्छी फसल के दावों के बावजूद, ज़िम्बाब्वे में लगभग 3.8 मिलियन लोगों को इस वर्ष खाद्य असुरक्षा का अनुभव होने की आशंका है।

 Find More International News Here

 

 

FAQs

जिम्बाब्वे किस लिए प्रसिद्ध है?

ज़िम्बाब्वे अपने खूबसूरत परिदृश्य, लिम्पोपो और ज़ाम्बेसी नदियों के लिए प्रसिद्ध है। यह अपने विविध वन्य जीवन और समृद्ध इतिहास के लिए भी जाना जाता है।