gdfgerwgt34t24tfdv
Home   »   जम्मू-कश्मीर में दुनिया के सबसे ऊंचे...

जम्मू-कश्मीर में दुनिया के सबसे ऊंचे चिनाब रेल ब्रिज पर दौड़ी पहली ट्रेन

जम्मू-कश्मीर में दुनिया के सबसे ऊंचे चिनाब रेल ब्रिज पर दौड़ी पहली ट्रेन |_3.1

जम्मू-कश्मीर में बने दुनिया के सबसे ऊंचे रेलवे पुल चिनाब रेल ब्रिज पर जल्द ही ट्रेन दौड़ती नजर आएगी। केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने रविवार को बताया कि जम्मू के रामबन में संगलदान और रियासी के बीच ट्रेन का पहला ट्रायल रन पूरा हुआ है।

चिनाब नदी से लगभग 359 मीटर ऊपर बना यह पुल दुनिया का सबसे ऊंचा रेल पुल है। रेलवे अधिकारियों ने रामबन जिले के संगलदान और जम्मू कश्मीर के रियासी के बीच नवनिर्मित चिनाब रेल पुल का निरीक्षण किया।

चिनाब रेल ब्रिज: एक नजर में

चिनाब रेल ब्रिज के निर्माण में कुल 30,000 मीट्रिक टन स्टील का उपयोग किया गया है। इस पुल का निर्माण 1486 करोड़ की लागत से किया गया है। यह 260 किमी प्रति घंटे तक की हवा की गति का सामना कर सकता है।

चिनाब ब्रिज पेरिस के एफिल टावर से भी ऊंचा है। एफिल टॉवर की ऊंचाई 330 मीटर है, जबकि 1.3 किमी लंबे इस ब्रिज को चिनाब नदी पर 359 मीटर की ऊंचाई पर बनाया गया है।

ऊधमपुर श्रीनगर बारामूला रेल लिंक

ऊधमपुर श्रीनगर बारामूला रेल लिंक (USBRL) प्रोजेक्ट 1997 से शुरू हुआ था और इसके तहत 272 किमी की रेल लाइन बिछाई जानी थी। अब तक अलग-अलग फेज में 209 किमी लाइन बिछाई जा चुकी है। इस साल के अंत तक रियासी को कटरा से जोड़ने वाली आखिरी 17 किमी लाइन बिछाई जाएगी, जिससे एक ट्रेन कश्मीर को बाकी देश से जोड़ेगी।

उधमपुर-श्रीनगर-बारामूला रेल लिंक प्रोजेक्ट का हिस्सा

इस ब्रिज का निर्माण उधमपुर-श्रीनगर-बारामूला रेल लिंक परियोजना के तहत किया गया है। ट्रेन 7 स्टेशनों से होकर बारामूला पहुंचेगी। इसका मकसद घाटी के लोगों के आने-जाने को आसान बनाना है।

FAQs

किस नदी पर विश्व का सबसे ऊंचा रेलवे पुल का निर्माण कार्य भारतीय रेलवे द्वारा किया जा रहा है.

चिनाब नदी (Chinab River) पर विश्व का सबसे ऊंचा रेलवे पुल का निर्माण कार्य भारतीय रेलवे (Indian Railways) द्वारा किया जा रहा है.