Home   »   जर्मनी की पूर्व चांसलर एंजेला मर्केल...

जर्मनी की पूर्व चांसलर एंजेला मर्केल यूनेस्को शांति पुरस्कार से सम्मानित

जर्मनी की पूर्व चांसलर एंजेला मर्केल यूनेस्को शांति पुरस्कार से सम्मानित_3.1

जर्मनी की पूर्व चांसलर एंजेला मर्केल को देश और यूरोपीय भागीदारों के प्रतिरोध के बावजूद जर्मनी में 12 लाख से अधिक प्रवासियों का स्वागत करने के उनके फैसले के लिए यूनेस्को शांति पुरस्कार से सम्मानित किया गया। जूरी के अध्यक्ष और 2018 के नोबेल शांति पुरस्कार विजेता डेनिस मुकवेगे सहित सभी जूरी सदस्य 2015 में सीरिया, इराक, अफगानिस्तान और इरिट्रिया से 1.2 मिलियन से अधिक शरणार्थियों का स्वागत करने के मर्केल के साहसी निर्णय से प्रभावित होकर उन्हें इस सम्मान के लिए चुना है।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

एंजेला मर्केल के बारे में

 

  • एंजेला मर्केल का जन्म 17 जुलाई 1954 को हैम्बर्ग, पश्चिम जर्मनी में हुआ था।
  • 2005 के राष्ट्रीय चुनावों में, मर्केल जर्मनी की पहली महिला चांसलर बनीं, और यूरोपीय संघ की प्रमुख हस्तियों में से एक है।
  • 14 मार्च 2014 को वह चौथी और आखिरी बार जर्मनी की चांसलर बनीं थी।
  • राजनीति में आने से पहले, वह शोध वैज्ञानिक के रूप में काम कर रही थीं।

 

यूनेस्को शांति पुरस्कार के बारे में

 

  • आधिकारिक तौर पर इसे फेलिक्स हौफौएट-बोगेन-यूनेस्को शांति पुरस्कार कहा जाता है।
  • सम्मान का नाम आइवरी कोस्ट के पूर्व राष्ट्रपति के नाम पर रखा गया है।
  • यूनेस्को का फेलिक्स हौफौएट-बोगेन शांति पुरस्कार 1989 में जीवित व्यक्तियों और सक्रिय सार्वजनिक या निजी निकायों या संस्थानों को सम्मानित करने के लिए बनाया गया था जिन्होंने शांति में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।
  • यह पुरस्कार 120 देशों द्वारा समर्थित एक प्रस्ताव द्वारा स्थापित किया गया था।

Find More Awards News HereUIDAI HQ Building wins top Green Building Award_90.1

FAQs

भारत यूनेस्को में कब शामिल हुआ?

भारत 1946 से यूनेस्को का सदस्य देश है।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *