Home   »   2024 ज़ाग्रेब ओपन एकल में अमन...

2024 ज़ाग्रेब ओपन एकल में अमन शेरावत को 57 किग्रा में स्वर्ण पदक

2024 ज़ाग्रेब ओपन एकल में अमन शेरावत को 57 किग्रा में स्वर्ण पदक |_30.1

भारत के उभरते कुश्ती सितारे अमन शेरावत ने ज़ाग्रेब ओपन 2024 में 57 किलोग्राम पुरुष एकल में स्वर्ण पदक जीता, फाइनल में तकनीकी श्रेष्ठता के साथ चीन के ज़ो वानहाओ को 10-0 से हराया।

भारत के युवा कुश्ती खिलाड़ी अमन शेरावत ने पुरुष एकल स्पर्धा के 57 किलोग्राम वर्ग में स्वर्ण पदक जीतकर ज़ाग्रेब ओपन 2024 में मंच पर एक खुशी कि लहर ला दी। 20 वर्षीय पहलवान ने फाइनल में चीन के ज़ो वानहाओ को 10-0 से हराकर तकनीकी श्रेष्ठता के आधार पर जीत हासिल करके अपनी ताकत का प्रदर्शन किया। इस प्रभावशाली जीत ने शेरावत के लिए वर्ष 2024 में एक शानदार शुरुआत की।

शुरूआती दबदबा

वर्तमान में दुनिया में 13वें स्थान पर मौजूद शेरावत ने फाइनल मैच के शुरुआती क्षणों से ही अपने चीनी समकक्ष पर अपना दबदबा दिखाया। सटीकता और कौशल के साथ, उन्होंने गलती के लिए कोई स्थान नहीं छोड़ा।

क्वालिफिकेशन राउंड में अद्भुत परिवर्तन

क्वालिफिकेशन राउंड में शेरावत का सामना तुर्की के मुहम्मत करावुस से हुआ। शुरुआत में अपने प्रतिद्वंद्वी से 0-4 से पिछड़ने के बावजूद, भारतीय पहलवान ने अविश्वसनीय वापसी की और अंततः 15-4 से मैच जीत लिया। लचीलेपन और दृढ़ संकल्प के इस प्रदर्शन ने शेरावत की चुनौतियों से उबरने और विजयी होने की क्षमता को उजागर किया।

कोच का परिप्रेक्ष्य

शेरावत की सफलता के बाद, उनके कोच ललित कुमार ने एथलीट के प्रदर्शन पर संतुष्टि व्यक्त की। हाल ही में द्रोणाचार्य पुरस्कार से सम्मानित कुमार ने शेरावत की तकनीक को निखारने में किए गए समर्पित प्रयासों पर जोर दिया।

ओलंपिक ट्रायल में संभावित प्रदर्शन

जैसा कि शेरावत को अक्सर भारत की अगली बड़ी कुश्ती सनसनी माना जाता है, अब ध्यान ओलंपिक 2024 के लिए आगामी चयन परीक्षणों पर केंद्रित है। युवा पहलवान खुद को टोक्यो ओलंपिक 2020 के रजत पदक विजेता रवि दहिया के साथ संभावित मुकाबले में पा सकते हैं। अगले महीने होने वाले चयन ट्रायल में कड़ी प्रतिस्पर्धा का वादा किया गया है क्योंकि भारतीय पहलवान ओलंपिक मंच पर अपने देश का प्रतिनिधित्व करने का मौका पाने के लिए प्रतिस्पर्धा कर रहे हैं।

अन्य भारतीय पहलवानों के लिए मिश्रित भाग्य

जहां शेरावत ने अपनी स्वर्ण पदक जीत का जश्न मनाया, वहीं प्रतियोगिता अन्य भारतीय पहलवानों के लिए मिश्रित किस्मत लेकर आई। दीपक पुनिया को पुरुषों के 86 किग्रा वर्ग में झटका लगा, वे अपना क्वालीफिकेशन राउंड मुकाबला कजाकिस्तान के अजामत दौलेटबेकोव से 2-6 से हार गए। हालाँकि, पुनिया ने पहले दौर के रेपेचेज में लचीलापन दिखाया और यूक्रेन के वैलेन्टिन बाबी के खिलाफ 4-1 से जीत हासिल की। दूसरी ओर, पुरुषों के 74 किग्रा वर्ग में प्रतिस्पर्धा कर रहे यश को यूएसए के क्विंसी माइल्स के खिलाफ कड़ी चुनौती का सामना करना पड़ा। राउंड 16 में यश को तकनीकी श्रेष्ठता के कारण 0-10 से हार का सामना करना पड़ा।

परीक्षा से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न

1. अमन शेरावत ने ज़ाग्रेब ओपन 2024 में किस श्रेणी में स्वर्ण पदक जीता?
A) 65 किग्रा
B) 57 किग्रा
C) 74 किग्रा

2. अमन शेरावत ने फाइनल में ज़ू वानहाओ के खिलाफ जीत कैसे हासिल की?
A) पिनफॉल
B) सबमिशन
C) टेक्निकल सुपिरीयरटी

3. क्वालिफिकेशन राउंड में तुर्की के अमन शेरावत के प्रतिद्वंद्वी कौन थे?
A) मुहम्मत करवुस
B) रवि दहिया
C) अज़मत दौलेटबेकोव

कृपया अपनी प्रतिक्रियाएँ टिप्पणी अनुभाग में साझा करें।

 

2024 ज़ाग्रेब ओपन एकल में अमन शेरावत को 57 किग्रा में स्वर्ण पदक |_40.1

 

FAQs

भारत के रक्षा मंत्री कौन हैं?

भारत के रक्षा मंत्री के रूप में हम राजनाथ सिंह को जानते हैं।

TOPICS: