Home   »   अरुण जेटली की चार दिवसीय दक्षिण...

अरुण जेटली की चार दिवसीय दक्षिण कोरिया की यात्रा के बारे में महत्वपूर्ण तथ्य

अरुण जेटली की चार दिवसीय दक्षिण कोरिया की यात्रा के बारे में महत्वपूर्ण तथ्य_2.1
केंद्रीय वित्त मंत्री, रक्षा और कारपोरेट मंत्री श्री अरुण जेटली चार-दिवसीय कोरिया गणराज्य (आरओके) की आधिकारिक यात्रा (14 से 17 जून) पर थे और इस यात्रा के दौरान वह भारत-कोरिया रणनीतिक आर्थिक वार्ता और एशिया इंफ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट बैंक (एआईआईबी) की  बोर्ड ऑफ़ गवर्नर्स की दूसरी वार्षिक बैठक में भाग लिया.

यात्रा के महत्वपूर्ण बिंदु-

1. चीन के नेतृत्व वाली एशिया इंफ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट बैंक ने इंडिया इंफ्रास्ट्रक्चर फंड को 150 मिलियन इक्विटी निवेश ऋण को मंजूरी दी है. यह निजी परियोजनाओं को निधि देने का बैंक का पहला ऐसा ऋण है.
2. भारत, दक्षिण कोरिया बुनियादी ढांचे, द्विपक्षीय व्यापार को बढ़ावा देने के लिए निवेश बढ़ाने के लिए सहमत 
दोनों देशों ने रियायती ऋण में 9 बिलियन अमेरिकी डालर के निवेश के लिए समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं और आधिकारिक विकास सहायक में 1 अरब डॉलर का समझौता किया है, यह समझौते भारत में अवसंरचना विकास परियोजनाओं के लिए ओडीए वित्तपोषण के लिए है. इसके साथ, कोरिया गणराज्य भारत में ओडीए योगदानकर्ता बनने वाले पहला गैर-जी -7 देश बन गया.
3. सियोल में भारत-कोरिया वित्तीय वार्ता
दोनों पक्ष इस बात पर सहमत हुए कि अनिश्चितता और बढ़ते संरक्षणवाद के जोखिम में, दोनों देशों के लिए निवेश प्रवाह को प्रोत्साहित करना, बुनियादी ढांचे के विकास के लिए समर्थन, और अन्य देशो के बीच द्विपक्षीय व्यापार को बढ़ावा देने के प्रयासों की आवश्यकता है. वार्ता के बाद भारत और दक्षिण कोरिया के बीच आर्थिक विकास सहकारिता निधि (ईडीसीएफ) के समझौते पर हस्ताक्षर किए गए और इसके बाद, भारत के एग्जिम बैंक और दक्षिण कोरिया के KEXIM बैंक के बीच समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए.
4. एआईआईबी के बोर्ड ऑफ़ गवर्नर्स की दूसरी वार्षिक बैठक
दक्षिण कोरिया के जेजु द्वीप में एआईआईबी की दूसरी वार्षिक बैठक 16 जून, 2017 को हुई थी. इस साल की वार्षिक बैठक का विषय “Sustainable Infrastructure” था. बोर्ड ऑफ़ गवर्नर्स की दूसरी वार्षिक बैठक के दौरान, एआईआईबी ने अर्जेंटीना, मेडागास्कर और टोंगा की सदस्यता को मंजूरी दी.
5. भारत 2018 एआईआईबी वार्षिक बैठक की मेजबानी करेगा
एआईआईबी के गवर्नर्स बोर्ड ने घोषणा की कि बोर्ड ऑफ़ गवर्नर्स की तीसरी वार्षिक बैठक जून, 2018 में भारत में मुंबई में आयोजित की जाएगी. भारत बैंक का दूसरा सबसे बड़ा शेयरधारक है (चीन पहला है) और एआईआईबी निवेश के विस्तार में एक महत्वपूर्ण भूमिका बना रहा है.

 एआईआईबी के बारे में संक्षिप्त में
  • एशिया इंफ्रास्ट्रक्चर इंवेस्टमेंट बैंक (एआईआईबी) एक नया बहुपक्षीय विकास बैंक है, जो पुरे एशिया में चुनौतिपूर्ण बुनियादी ढांचे की जरूरतों को पूरा करने के लिए देशों को एक साथ लाने का कार्य करता है.
  • बीजिंग, चीन में एआईआईबी मुख्यालय स्थित है.
  • श्री जीन लीकून एआईआईबी के मौजूदा अध्यक्ष हैं.
  • एआईआईबी ने जनवरी 2016 में अपना अभियान शुरू किया और अब इसके दुनिया भर से 80 स्वीकृत सदस्यों है.

स्त्रोत- प्रेस इनफार्मेशन ब्यूरो 

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *