Wednesday, 3 August 2022

IAF 2025 तक मिग-21 बाइसन विमान को करेगी बाहर

IAF 2025 तक मिग-21 बाइसन विमान को करेगी बाहर



भारतीय वायुसेना में काफी लंबे समय से मिग-21 (Mig-21) विमान अपनी सेवाएं दे रहा है। इसे लेकर अब आईएएफ(IAF) ने 2025 तक मिग-21 बाइसन विमान के सभी स्क्वाड्रन को रिटायर करने की योजना बनाई है। एयरफोर्स इनकी जगह पर हल्के और स्वदेशी विमान को लाने की तैयारी कर रहा है। हालांकि बालाकोट एयर स्ट्राइक  के बाद पाकिस्तान के जवाबी हमले को इस विमान ने विफल कर दिया था। कैप्टन अभिनंदन ने इसी विमान के बल पर अमरीका के एफ-16 लड़ाकू विमान को मार गिराया था। 


Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams



IBPS PO Notification 2022 Out: Click Here to Download PDF




मिग-21 के बारे में


  • मिग-21 को बहुत पहले ही बंद कर दिया जाना था, लेकिन एलसीए तेजस विमान को शामिल करने में देरी ने भारतीय वायुसेना को इन विमानों को उड़ाना जारी रखने के लिए मजबूर किया है। 
  • रूस की मिकोयान कंपनी द्वारा इस विमान का निर्माण साल 1955 के करीब किया गया था। भारतीय वायु सेना में साल 1963 में शामिल किया गया। 
  • भारत ने कुल 874 मिग-21 विमानों को अपने बेड़े में शामिल किया था। वर्तमान में वायुसेना इसके अपग्रेडेड वर्जन मिग-21 बाइसन का प्रयोग करती है। 
  • भारत की हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) इस विमान को लाइसेंस के तहत अपग्रेड करती है। 

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search