Friday, 29 July 2022

भारत, यूएई और फ्रांस ने हिंद-प्रशांत क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने को लेकर चर्चा की

भारत, यूएई और फ्रांस ने हिंद-प्रशांत क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने को लेकर चर्चा की



भारत, फ्रांस और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने हाल ही में नए त्रिपक्षीय फ्रेमवर्क के तहत हिंद-प्रशांत क्षेत्र (Indo-Pacific region) में सहयोग के संभावित क्षेत्रों पर चर्चा की। तीन देशों द्वारा चिन्हित किए गए सहयोग के क्षेत्रों में समुद्री सुरक्षा, क्षेत्रीय संपर्क, ऊर्जा एवं खाद्य सुरक्षा और आपूर्ति-श्रृंखला को लचीला बनाना शामिल है। भारतीय पक्ष का नेतृत्व विदेश मंत्रालय में संयुक्त सचिव (यूरोप पश्चिम) संदीप चक्रवर्ती और संयुक्त सचिव (खाड़ी) विपुल ने किया।


Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams


हिन्दू रिव्यू जून 2022, डाउनलोड करें मंथली करेंट अफेयर PDF (Download The Hindu Monthly Current Affair PDF in Hindi)



मुख्य बिंदु


  • विदेश मंत्रालय के अनुसार 'त्रिपक्षीय फ्रेमवर्क के तहत हिंद -प्रशांत क्षेत्र में चीन की बढ़ती सैन्य ताकत को लेकर वैश्विक चिंता के बीच तीनों देशों ने क्षेत्र में सहयोग बढ़ाने का संकल्प लिया है।
  • विदेश मंत्रालय ने कहा कि तीनों पक्षों ने हिंद-प्रशांत क्षेत्र के बारे में विचार-विमर्श कर समुद्री सुरक्षा, मानवीय सहायता व आपदा राहत, क्षेत्रीय संपर्क, बहुपक्षीय मंचों पर सहयोग, ऊर्जा एवं खाद्य सुरक्षा, नवाचार और स्टार्टअप सहित त्रिपक्षीय सहयोग के संभावित क्षेत्रों को चिन्हित किया है।
  • बयान में कहा गया है कि उन्होंने भारत-प्रशांत क्षेत्र में त्रिपक्षीय सहयोग को आगे बढ़ाने के लिए उठाए जाने वाले अगले कदमों पर भी चर्चा की।


भारत और फ्रांस समुद्री संबंध:


  • भारत और फ्रांस समृद्ध समुद्री अर्थव्यवस्थाओं वाले समुद्री राष्ट्र हैं। दोनों देश पर्यावरण और तटीय और समुद्री जैव विविधता की रक्षा करते हुए नीली अर्थव्यवस्था के माध्यम से अपने समुदायों को आगे बढ़ाना चाहते हैं। 
  • दोनों राष्ट्र वैज्ञानिक समझ को आगे बढ़ाना चाहते हैं, समुद्र संरक्षण को बढ़ावा देना चाहते हैं, और महासागर को एक वैश्विक साझा, मुक्त व्यापार के लिए अनुकूल क्षेत्र के रूप में बनाए रखना चाहते हैं।
  • फ्रांस और भारत के बीच लंबे समय से मित्रता और घनिष्ठता के संबंध हैं। दोनों देशों ने 1998 में एक रणनीतिक साझेदारी की स्थापना की, जो उनके कड़े और विकासशील द्विपक्षीय संबंधों के अलावा, विभिन्न अंतरराष्ट्रीय चिंताओं पर उनके समझौते का प्रतीक है।


भारत और संयुक्त अरब अमीरात समुद्री संबंध:


  • भारत और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने 1972 में राजनयिक संबंध स्थापित किए। यूएई ने 1972 में भारत में अपना दूतावास खोला, जबकि यूएई में भारतीय दूतावास 1973 में खोला गया। 
  • भारत और यूएई के पारंपरिक रूप से मजबूत द्विपक्षीय संबंधों को नियमित रूप से प्रोत्साहन मिला है। समय-समय पर उच्च स्तरीय द्विपक्षीय यात्राओं का आदान-प्रदान भी हुआ है।
  • दोनों देशों के बीच लंबे समय से चले आ रहे सांस्कृतिक, धार्मिक और आर्थिक संबंधों के आधार पर, भारत और यूएई के बीच घनिष्ठ मित्रता है।



Current Affairs One Liners June 2022 in Hindi: डाउनलोड करें जून 2022 के महत्वपूर्ण करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तर की PDF, Download Free PDF in Hindi


Find More Summits and Conferences Here

PM Narendra Modi attends first virtual I2U2 summit 2022_90.1


Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search