Saturday, 16 April 2022

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ने 14 अप्रैल को 'समानता दिवस' के रूप में मनाने की घोषणा की

तमिलनाडु के मुख्यमंत्री ने 14 अप्रैल को 'समानता दिवस' के रूप में मनाने की घोषणा की



मुख्यमंत्री एमके स्टालिन ने विधानसभा में घोषणा की कि बी.आर. अंबेडकर की जयंती (14 अप्रैल) को 'समथुवा नाल (समानता दिवस)' के रूप में मनाया जाएगा, और उस दिन नियम 110 के अनुसार, एक वादा किया जाएगा।


Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams


प्रमुख बिंदु (Key Points):

  • मुख्यमंत्री ने कहा कि इसकी मांग 'आदि द्रविड़ एवं आदिम जाति कल्याण विभाग' की ओर से राज्य सतर्कता एवं निगरानी समिति की बैठक के दौरान की गई थी, साथ ही कहा कि इस दिन को उसी तरह मनाने का विचार है जिस तरह पेरियार के जन्मदिन को 'सामाजिक न्याय दिवस' के रूप में मनाया जाता है।
  • पूर्व केंद्रीय मंत्री और नीलगिरी के सांसद ए. राजा ने एक बार मांग की थी कि बी.आर. अंबेडकर के लेखन का तमिल में अनुवाद किया जाए। मुख्यमंत्री द्वारा दिए गये वक्तव्यों के अनुसार, "ए. राजा के अनुरोध को स्वीकार कर लिया गया है। तमिलनाडु सरकार की योजना अंबेडकर की कुछ पुस्तकों को प्रकाशित करने की है।"
  • मुख्यमंत्री स्टालिन ने DMK के कार्यकर्ताओं/कर्मियों से पार्टी के जिला इकाई कार्यालयों और तमिलनाडु राज्य के आसपास के सभी 238 पेरियार मेमोरियल समथुवपुरम में 'समानता दिवस' मनाने के लिए कहा।


सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे (Important Takeaways for all Competitive Exams):

  • तमिलनाडु के मुख्यमंत्री: एम.के. स्टालिन
  • तमिलनाडु राजधानी: चेन्नई
  • तमिलनाडु भारतीय संघ का दूसरा सबसे अमीर और सबसे धनी राज्य है
  • यह देश में सबसे अधिक औद्योगीकृत राज्य है
  • राज्य का 60% से अधिक शहरीकरण है
  • तमिलनाडु द्रविड़ शैली में अपने हिंदू मंदिरों के लिए प्रसिद्ध है।
  • मदुरै में मीनाक्षी अम्मन मंदिर में रंगीन मूर्तियों के साथ ऊंचे 'गोपुरम' स्तंभ हैं।


Find More State In News Here


इन्हें भी पढ़ें : 


Uttarakhand to launch "Him Prahari" scheme for ex-servicemen & youngsters_60.1

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search