Saturday, 16 April 2022

(e-NAM) राष्ट्रीय कृषि बाज़ार ने पूरे किये 6 साल

(e-NAM) राष्ट्रीय कृषि बाज़ार ने पूरे किये 6 साल



e-NAM, बतौर अखिल भारतीय इलेक्ट्रॉनिक व्यापार नेटवर्क, राष्ट्रीय कृषि बाज़ार (e-NAM) की छठी वर्षगांठ का प्रतीक है। कृषि फ़सलों/मालों के ऑनलाइन व्यापार को आसान बनाने के लिए, प्रमुख कार्यक्रम में कई राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के थोक मंडियों और बाज़ारों को शामिल किया गया है। इसे लघु किसान कृषि व्यवसाय संघ e-NAM को लागू कर रहे हैं। इस योजना को प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 14 अप्रैल, 2016 को  लॉन्च किया गया था। यह पूरी तरह से केंद्र सरकार द्वारा वित्त पोषित है।


Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams


eNAM क्या है (What is eNAM)?

  • राष्ट्रीय कृषि बाज़ार (eNAM), एक अखिल भारतीय इलेक्ट्रॉनिक व्यापार प्रणाली है जो मौजूदा एपीएमसी मंडियों को एक एकीकृत राष्ट्रीय कृषि उत्पाद/माल बाज़ार बनाने के लिए जोड़ती है (कृषि उपज और पशुधन बाजार समिति - Agricultural Produce & Livestock Market Committee/APMC)। भारत सरकार के कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के तहत, लघु किसान कृषि व्यवसाय संघ (SFAC) eNAM को लागू करने वाली प्रमुख एजेंसी है।


दूरदर्शिता (VISION)

  • इससे जुड़े बाज़ारों में प्रक्रियाओं को सुव्यवस्थित करके, ख़रीदारों और विक्रेताओं के बीच सूचना विषमता को समाप्त करने के लिए तथा वास्तविक मांग और आपूर्ति के आधार पर समय के अनुसार सही क़ीमत तलाश कर कृषि विपणन एकरूपता को बढ़ाने के लिए इसे लाया गया गया है।


उद्देश्य (MISSION)

  • किसान ई-नाम (eNAM) प्लेटफॉर्म पर एक ऑनलाइन प्रतिस्पर्धी और पारदर्शी मूल्य खोज पद्धति के माध्यम से अपनी उपज बेच सकते हैं, जो उनके लिए अधिक विपणन संभावनाओं को प्रोत्साहित करता है। किसान ई-नाम साइट पर अपनी उपज को पंजीकृत करने और बेचने के लिए स्वतंत्र हैं। 18 राज्यों और तीन केंद्र शासित प्रदेशों की कुल 1000 मंडियां ई-नाम प्लेटफॉर्म से जुड़ गई हैं, जिससे एक करोड़ 72 लाख से अधिक किसान लाभान्वित हुए हैं।
  • एक साझा ऑनलाइन बाजार मंच के माध्यम से देश भर में एपीएमसी का एकीकरण संभव हुआ है अब किसान उत्पाद की गुणवत्ता और त्वरित ऑनलाइन भुगतान के आधार पर एक पारदर्शी नीलामी प्रक्रिया के माध्यम से अपनी फसलों की बेहतर कीमत पा सकते है।


Find More News Related to Schemes & Committees


इन्हें भी पढ़ें : 


Cabinet gives approval to extension of AIM till March Next year_80.1

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search