Tuesday, 8 March 2022

पाकिस्तान फिर से FATF की ग्रे लिस्ट में शामिल

पाकिस्तान फिर से FATF की ग्रे लिस्ट में शामिल

 


ग्लोबल मनी लॉन्ड्रिंग और टेररिस्ट फाइनेंसिंग वॉचडॉग, फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (Financial Action Task Force - FATF) ने पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में बनाए रखा और देश से मनी लॉन्ड्रिंग जांच और मुकदमों पर काम करने को कहा। FATF ने संयुक्त अरब अमीरात (UAE) को भी अपनी ग्रे वॉचलिस्ट में शामिल किया है।


आरबीआई असिस्टेंट प्रीलिम्स कैप्सूल 2022, Download Hindi Free PDF 


 हिन्दू रिव्यू फरवरी 2022, Download Monthly Hindu Review PDF in Hindi


1-4 मार्च, 2022 तक चार दिवसीय FATF प्लेनरी के समापन के बाद यह निर्णय लिया गया है। यह आयोजन पेरिस, फ्रांस से हाइब्रिड मोड में हुआ। मनी लॉन्ड्रिंग और टेरर फाइनेंसिंग को रोकने में विफल रहने के लिए पाकिस्तान जून 2018 से FATF की ग्रे लिस्ट में है। इसे अक्टूबर 2019 तक पूरा करने की कार्ययोजना दी गई थी लेकिन यह FATF के आदेशों का पालन करने में विफल है।

क्या है FATF की ग्रे लिस्ट?


  • FATF ग्रे लिस्ट वह सूची है जिसमें बढ़ी हुई निगरानी के तहत क्षेत्राधिकार रखे जाते हैं। यदि किसी क्षेत्राधिकार को बढ़ी हुई निगरानी में रखा गया है, तो इसका मतलब है कि क्षेत्राधिकार सहमत समय सीमा के भीतर रणनीतिक कमियों को हल करने के लिए प्रतिबद्ध है।
  • FATF ग्रे लिस्ट के तहत क्षेत्राधिकार एफएटीएफ के साथ सक्रिय रूप से काम करते हैं ताकि मनी लॉन्ड्रिंग और आतंकवादी वित्तपोषण के खिलाफ लड़ने के लिए उनके शासन में रणनीतिक कमियों को दूर किया जा सके।


सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:


  • FATF की स्थापना: 1989;
  • FATF सदस्य: 39;
  • FATF मुख्यालय: पेरिस, फ्रांस;
  • FATF अध्यक्ष: टी राजा कुमार (सिंगापुर)।


Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams


Find More International News

Study in India meet 2022 inaugurated in Dhaka_90.1

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search