Monday, 7 February 2022

भारत सरकार ने 1,19,701 करोड़ रुपये का स्विच ऑपरेशन किया

भारत सरकार ने 1,19,701 करोड़ रुपये का स्विच ऑपरेशन किया

 


भारत सरकार ने 1,19,701 करोड़ (अंकित मूल्य) की राशि के लिए भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के साथ अपनी प्रतिभूतियों का रूपांतरण स्विच लेनदेन किया है। लेन-देन में आरबीआई से वित्त वर्ष 2022-23, वित्त वर्ष 2023-24 और वित्त वर्ष 2024-25 में परिपक्व होने वाली बाइंग बैक सिक्योरिटीज़ शामिल है और लेनदेन को नकद तटस्थ बनाने के लिए समतुल्य बाजार मूल्य के लिए नई प्रतिभूतियां जारी करना है।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

 हिन्दू रिव्यू जनवरी 2022, Download Monthly Hindu Review PDF in Hindi


लेनदेन 28 जनवरी, 2022 तक फाइनेंशियल बेंचमार्क इंडिया प्राइवेट लिमिटेड (Financial Benchmarks India Private Limited - FBIL) की कीमतों का उपयोग करके किए गए थे। भारत सरकार देयता प्रोफाइल को सुगम बनाने के साथ-साथ बाजार के विकास के लिए आरबीआई और बाजार सहभागियों के साथ भी स्विच संचालन करता है।


सरकारी सुरक्षायें:

वे ऋण साधन हैं। वे भारत सरकार द्वारा जारी किए जाते हैं। सरकारी प्रतिभूतियों की दो श्रेणियां लघु अवधि के साधन हैं जो 91 दिनों, 182 दिनों या 364 दिनों में परिपक्व होते हैं और लंबी अवधि के साधन जो 5 साल से 40 साल के भीतर परिपक्व होते हैं। भारतीय समाशोधन निगम लिमिटेड द्वारा प्रतिभूतियों को मंजूरी दी जाती है। ये प्रतिभूतियां आरबीआई द्वारा आयोजित नीलामियों के माध्यम से जारी की जाती हैं।


Current affairs 2022

Find More Banking News Here

RBI cancels the licence of Nashik's Independence Co-operative Bank Limited_90.1

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search