Thursday, 17 February 2022

बंगाली गायिका संध्या मुखर्जी का निधन

बंगाली गायिका संध्या मुखर्जी का निधन

 


महान बंगाली गायिका संध्या मुखर्जी (Sandhya Mukherjee) का 90 वर्ष की आयु में हृदय गति रुकने से निधन हो गया। उनका पूरा नाम गीताश्री संध्या मुखोपाध्याय (Geetashree Sandhya Mukhopadhyay) था। उन्हें हाल ही में केंद्र सरकार से जनवरी 2022 में दिए गए पद्म पुरस्कार को स्वीकार करने से इनकार कर दिया था। उन्होंने कहा कि पद्मश्री कोई पुरस्कार नहीं है जो उनके जैसे दिग्गज को दिया जाना चाहिए। उसे स्वीकार करना उनके लिए अशोभनीय होगा।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

 हिन्दू रिव्यू जनवरी 2022, Download Monthly Hindu Review PDF in Hindi


उनका जन्म 1931 में कोलकाता में हुआ था, संध्या मुखर्जी ने अपना पहला गाना 1948 में हिंदी फिल्म अंजान गढ़ के लिए रिकॉर्ड किया था। संगीत राय चंद बोरल (Rai Chand Boral) ने दिया था। उन्होंने एस डी बर्मन, रोशन और मदन मोहन जैसे प्रसिद्ध संगीतकारों के निर्देशन में गाया था ।


उन्हें प्राप्त विभिन्न सम्मान:

मुखर्जी को 2011 में बंगाल सरकार द्वारा दिया जाने वाला सर्वोच्च नागरिक सम्मान बंगा विभूषण और 1970 में जय जयंती (साउंड ऑफ म्यूजिक का एक बंगाली रीमेक) और निशि पद्मा के लिए सर्वश्रेष्ठ महिला पार्श्व गायिका का राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार मिला। निशि पद्मा को राजेश खन्ना अभिनीत अमर प्रेम के रूप में हिंदी में बनाया गया था।


Find More Obituaries News

Legendary singer and music composer Bappi Lahiri passes away_90.1

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search