Thursday, 13 January 2022

केंद्र के पास इक्विटी के रूप में वोडाफोन आइडिया की 35.8% हिस्सेदारी होगी

केंद्र के पास इक्विटी के रूप में वोडाफोन आइडिया की 35.8% हिस्सेदारी होगी

 


भारत की केंद्र सरकार वोडाफोन आइडिया (Vodafone Idea) में सबसे बड़ी शेयरधारक बनने के लिए तैयार है। कंपनी के बोर्ड ने 16,000 करोड़ रुपये के ब्याज को इक्विटी में बदलने को मंजूरी दी। भारत के तीसरे सबसे बड़े नेटवर्क वीआई या वोडाफोन आइडिया लिमिटेड (Vodafone Idea Limited - VIL) ने सरकारी इक्विटी में स्पेक्ट्रम और समायोजित सकल राजस्व (Adjusted Gross Revenue - AGR) बकाया पर ब्याज को मंजूरी दे दी है।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

हिन्दू रिव्यू दिसम्बर 2021, Download Monthly Hindu Review PDF in Hindi


VIL ने चार साल की मोहलत को स्वीकार कर लिया और साथ ही इक्विटी रूपांतरण को स्वीकार कर लिया, जिसका अर्थ है कि भारत सरकार के पास VIL की लगभग 35.8% हिस्सेदारी होगी, जिसके बाद वोडाफोन समूह का 28.5 प्रतिशत और आदित्य बिड़ला समूह का 17.8% हिस्सा होगा।


Find More Business News Here

TCS Passport: TCS bags phase 2 of Centre's passport plan 2022_90.1

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search