Monday, 1 November 2021

चेन्नई-मैसूर-चेन्नई शताब्दी एक्सप्रेस को मिला IMS प्रमाणन

चेन्नई-मैसूर-चेन्नई शताब्दी एक्सप्रेस को मिला IMS प्रमाणन

 


चेन्नई-मैसूर-चेन्नई शताब्दी एक्सप्रेस एकीकृत प्रबंधन प्रणाली (Integrated Management Systems - IMS) प्रमाणन प्राप्त करने वाली दक्षिण रेलवे की पहली ट्रेन बन गई है। इसे ट्रेन के विश्व स्तरीय रखरखाव, पर्यावरण के अनुकूल संसाधनों और यात्रियों की सुविधाजनक और सुरक्षित यात्रा का प्रमाण पत्र मिला है। यह इस प्रतिष्ठित प्रमाणन को प्राप्त करने वाली पहली शताब्दी ट्रेन और भारतीय रेलवे की एकमात्र दूसरी मेल/एक्सप्रेस ट्रेन भी है।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

IBPS RRB क्लर्क मेन्स और SBI क्लर्क मेन्स 2021 परीक्षाओं के लिए करेंट अफेयर्स GA पॉवर कैप्सूल: Download PDF

प्रदान किया गया IMS प्रमाणपत्र ISO 9001:2015, ISO 14001:2015 और ISO 45001:2018 है। IMS प्रमाणित होने वाली भारतीय रेलवे की पहली ट्रेन हबीबगंज-हजरत निजामुद्दीन-हबीबगंज भोपाल एक्सप्रेस है।

Find More Miscellaneous News Here

CBSE launches Veer Gatha project in schools_90.1

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search