Wednesday, 25 August 2021

आरबीआई द्वारा नियुक्त समिति ने शहरी सहकारी बैंकों के लिए 4-स्तरीय संरचना का सुझाव दिया

आरबीआई द्वारा नियुक्त समिति ने शहरी सहकारी बैंकों के लिए 4-स्तरीय संरचना का सुझाव दिया

 


एन. एस. विश्वनाथन (N. S. Vishwanathan) की अध्यक्षता में आरबीआई द्वारा नियुक्त पैनल ने शहरी सहकारी बैंकों (Urban Co-operative Banks) के लिए 4-स्तरीय संरचना का सुझाव दिया; उनके लिए न्यूनतम सीआरएआर (पूंजी से जोखिम-भारित संपत्ति अनुपात - CRAR-Capital to Risk-Weighted Assets Ratio) 9 प्रतिशत से 15 प्रतिशत तक भिन्न हो सकता है। रिजर्व बैंक (Reserve Bank) द्वारा नियुक्त एक समिति ने शहरी सहकारी बैंकों (urban cooperative banks - UCB) के लिए जमा के आधार पर एक चार स्तरीय संरचना का सुझाव दिया है और उनके आकार के आधार पर उनके लिए विभिन्न पूंजी पर्याप्तता और नियामक मानदंड निर्धारित किए हैं।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

RBI समिति ने कहा कि UCB को चार श्रेणियों में विभाजित किया जा सकता है:

  • टियर -1 में 100 करोड़ रुपये तक की जमा राशि के साथ ;
  • टियर -2 में 100-1,000 करोड़ रुपये के बीच जमा के साथ;
  • टियर-3 में 1,000 करोड़ रुपये से 10,000 रुपये के बीच जमा और
  • टियर-4 में 10,000 करोड़ रुपये से अधिक की जमा राशि है।


Find More Banking News Here

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search