Thursday, 5 August 2021

BRO ने लद्दाख में 19,300 फीट की ऊंचाई पर बनाई दुनिया की सबसे ऊंची सड़क

BRO ने लद्दाख में 19,300 फीट की ऊंचाई पर बनाई दुनिया की सबसे ऊंची सड़क

 


सीमा सड़क संगठन (Border Roads Organisation - BRO) ने पूर्वी लद्दाख (Eastern Ladakh) के उमलिंग-ला दर्रे  (Umlingla Pass) पर दुनिया की सबसे ऊंची सड़क का निर्माण कर उसे काला कर दिया है। दुनिया की सबसे ऊंची मोटर योग्य सड़क 19,300 फीट की ऊंचाई पर स्थित है। यह माउंट एवरेस्ट (Mount Everest) के बेस कैंप से भी ऊंचा है। पूर्वी लद्दाख (Eastern Ladakh) के चुमुर सेक्टर (Chumar sector) के महत्वपूर्ण शहरों को जोड़ने वाली यह सड़क अपने आप में उमलिंग-ला दर्रे (Umlingla Pass) से होते हुए 52 किलोमीटर लंबी टरमैक (tarmac) है।

उमलिंग-ला दर्रे (Umlingla Pass) जैसी जगहों पर बुनियादी ढांचे का विकास कठिन और कठिन इलाके और बेहद कम तापमान के कारण मुश्किल है। सर्दियों में तापमान शून्य से 40 डिग्री नीचे चला जाता है। इस ऊंचाई पर ऑक्सीजन (oxygen) का स्तर सामान्य स्थानों की तुलना में लगभग 50 प्रतिशत कम है।

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

तिब्बत (Tibet) में उत्तरी आधार 16,900 फीट है, जबकि नेपाल (Nepal) में दक्षिण आधार शिविर 17,598 फीट है। माउंट एवरेस्ट (Mount Everest) का शिखर 29,000 फीट से थोड़ा अधिक है। सड़क का निर्माण सियाचिन ग्लेशियर (Siachen Glacier) की ऊंचाई से काफी ऊपर किया गया है जो कि 17,700 फीट है। लेह (Leh) में खारदुंग ला दर्रा (Khardung La Pass) 17,582 फीट की ऊंचाई पर है। इसके साथ ही भारत ने बोलीविया (Bolivia's) के 18,953 फीट की सड़क के रिकॉर्ड को भी बेहतर कर दिया है।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • बीआरओ के महानिदेशक: लेफ्टिनेंट जनरल राजीव चौधरी (Rajeev Chaudhary);
  • बीआरओ मुख्यालय: नई दिल्ली (New Delhi);
  • बीआरओ की स्थापना: 7 मई 1960।


Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search