Thursday, 31 December 2020

नौसेना-DRDO ने पहले एयरड्राप कंटेनर 'SAHAYAK-NG' का किया सफल उड़ान परीक्षण

नौसेना-DRDO ने पहले एयरड्राप कंटेनर 'SAHAYAK-NG' का किया सफल उड़ान परीक्षण

 

रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) ने भारतीय नौसेना के साथ मिलकर गोवा तट से कुछ दूर समुद्र में IL 38SD एयरक्राफ्ट (इंडियन नेवी) से भारत के पहले स्वदेशी रूप से डिजाइन और विकसित एयर कंटेनर 'SAHAYAK-NG' का सफल उड़ान परीक्षण पूरा किया। भारतीय नौसेना ने इसकी परिचालन लॉजिस्टिक क्षमता में वृद्धि करने और तट से 2,000 किलोमीटर से अधिक की दूरी पर तैनात पोतों को महत्‍वपूर्ण इंजीनियरिंग भंडारण सुविधा मुहैया कराने के लिए यह परीक्षण किया।



WARRIOR 4.0 | Banking Awareness Batch for SBI, RRB, RBI and IBPS Exams | Bilingual | Live Class


"SAHAYAK-NG" के बारे में

  • SAHAYAK-NG, SAHAYAK Mk I का आधुनिक संस्करण है।
  • नए विकसित जीपीएस एडेड एयर ड्रॉप कंटेनर, 50 किलोग्राम तक वजन ले जाने में सक्षम है और इसे किसी भारी विमान से सतह पर उतारा जा सकता है। 
  • इस कंटेनर का विकास डीआरडीओर की दो प्रयोगशालाओं – विशाखापत्तनम स्थित नौसेना विज्ञान और तकनीकी प्रयोगशाला और आगरा स्थित हवाई वितरण अनुसंधान और विकास संस्थान ने अपने उद्योग साझेदार मैसर्स अवान्‍टेल के साथ मिलकर किया है। 

उपरोक्त समाचारों से आने-वाली परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य- 

  • DRDO के अध्यक्ष: डॉ. जी. सतीश रेड्डी
  • DRDO मुख्यालय: नई दिल्ली
  • DRDO स्थापना: 1958

Find More News Related to Defence

 

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search