Saturday, 19 December 2020

गोवा मुक्ति दिवस: 19 दिसंबर

गोवा मुक्ति दिवस: 19 दिसंबर

Goa Liberation Day: भारत में हर साल 19 दिसंबर को गोवा मुक्ति दिवस के रूप में मनाया जाता है, जो उस दिन का प्रतीक है जब 1961 में पुर्तगाल के 450 वर्षों के शासन बाद भारतीय सशस्त्र बलों ने गोवा को मुक्त कराया था। गोवा मुक्ति दिवस को गोवा में कई आयोजनों और उत्सवों द्वारा चिह्नित किया जाता है, हालांकि इस बार महामारी के कारण उत्सवों की न होने की उम्मीद है। आज के दिन राज्य के तीन अलग-अलग स्थानों से लोग मशाल प्रज्वलित करके आजाद मैदान में पहुँचते हैं।


WARRIOR 4.0 | Banking Awareness Batch for SBI, RRB, RBI and IBPS Exams | Bilingual | Live Class

गोवा मुक्ति दिवस का इतिहास:

  • पुर्तगालियों ने 1510 में भारत के कई हिस्सों में अपना शासन स्थापित किया था लेकिन 19 वीं सदी के अंत तक भारत में पुर्तगाली शासन केवल गोवा, दमन, दीव, दादरा, नगर हवेली और अंजदिवा द्वीप तक सीमित रह गया था।
  • गोवा मुक्ति आंदोलन, जिसने गोवा में पुर्तगाली औपनिवेशिक शासन को समाप्त करने की मांग की, छोटे पैमाने पर विद्रोह के साथ शुरू हुआ था।
  • 15 अगस्त, 1947 को, जब भारत को स्वतंत्रता मिली थी, तब भी गोवा में पुर्तगाली शासन था।
  • इसके बाद पुर्तगालियों ने गोवा और अन्य भारतीय क्षेत्रों से अपनी पकड़ छोड़ने से इनकार कर दिया था। पुर्तगालियों के साथ असफल वार्ता और असंख्य कूटनीतिक प्रयासों के बाद, भारत के पूर्व प्रधान मंत्री, जवाहरलाल नेहरू ने फैसला किया कि अब सैन्य हस्तक्षेप ही एकमात्र विकल्प होगा।
  • 18 दिसंबर, 1961 से 36-घंटे तक सैन्य अभियान 'ऑपरेशन विजय' चलाया गया, जिसमें भारतीय नौसेना, भारतीय वायु सेना और भारतीय सेना के हमले शामिल थे।

उपरोक्त समाचारों से आने-वाली परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य- 

  • गोवा राजधानी: पणजी
  • गोवा के राज्यपाल: भगत सिंह कोश्यारी
  • गोवा के मुख्यमंत्री: प्रमोद सावंत


Find More State in News Here

  

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search