Monday, 7 December 2020

फाइबर ऑप्टिक्स के जनक नरिंदर सिंह कपानी का निधन

फाइबर ऑप्टिक्स के जनक नरिंदर सिंह कपानी का निधन

 


फाइबर ऑप्टिक्स का जनक कहे जाने वाले नरिंदर सिंह कपानी का निधन। भारत में जन्मे अमेरिकी भौतिक विज्ञानी को फॉर्च्यून ने नवंबर 1999 के पने 'बिजनेसमैन' अंक के सात "Unsung Heroes" में से एक के रूप में नामित किया था।


WARRIOR 4.0 | Banking Awareness Batch for SBI, RRB, RBI and IBPS Exams | Bilingual | Live Class


कपानी 1954 में फाइबर ऑप्टिक्स के माध्यम से चित्रों को प्रसारित करने और हाई-स्पीड इंटरनेट तकनीक की नींव रखने वाले पहले व्यक्ति थे । उन्होंने न केवल फाइबर ऑप्टिक्स की नींव रखी बल्कि व्यवसाय के लिए अपने स्वयं के आविष्कार का भी इस्तेमाल किया। उन्होंने क्रमशः 1960 और 1973 में ऑप्टिक टेक्नोलॉजी इनकार्पोरेशन और कैप्ट्रोन इनकार्पोरेशन की स्थापना की। उन्होंने आगरा विश्वविद्यालय से पढ़ाई की और फिर लंदन के इंपीरियल कॉलेज चले गए। उन्होंने 1955 में लंदन विश्वविद्यालय से पीएचडी की उपाधि प्राप्त की।


पुरस्कार:

उन्हें 1998 में यूएसए पैन-एशियन अमेरिकन चैंबर ऑफ कॉमर्स से 'द एक्सीलेंस 2000 अवार्ड', ब्रिटिश रॉयल एकेडमी ऑफ इंजीनियरिंग, ऑप्टिकल सोसाइटी ऑफ अमेरिका, और अमेरिकन एसोसिएशन फॉर द एडवांसमेंट ऑफ साइंस सहित कई वैज्ञानिक संस्थाओं द्वारा सम्मनित किया गया था।


Find More Obituaries News


Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search