Monday, 29 June 2020

नौसेना के बेड़े में शामिल हुआ उन्नत श्रेणी का टॉरपीडो डिकॉय सिस्टम "मारीच"

नौसेना के बेड़े में शामिल हुआ उन्नत श्रेणी का टॉरपीडो डिकॉय सिस्टम "मारीच"

भारतीय नौसेना ने एक उन्नत एंटी-टॉरपीडो डिकॉय सिस्टम (advanced anti-torpedo decoy system) 'मारीच' को अपने बेड़े में शामिल किया है। इस सिस्टम को रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) द्वारा स्वदेशी रूप से डिजाइन और विकसित किया गया है और यह आने वाले टॉरपीडो का पता लगाने, उनकी लोकेशन की जानकारी देने और उन्हें बेअसर करने में सक्षम है। इस तकनीक के सिस्टम के प्रारूप (प्रोटोटाइप) को एक नामित नौसैनिक मंच पर स्थापित किया गया था जहां इसने सभी उपयोगकर्ता मूल्यांकन परीक्षणों को सफलतापूर्वक पूरा किया और नौसेना के लिए आवश्यक योग्यता के अनुसार (Naval Staff Qualification Requirements) अपनी विशेषताओं का प्रदर्शन किया।



इस नौसेना के बेड़े में शामिल किया जाना न केवल रक्षा प्रौद्योगिकी के स्वदेशी विकास के लिए भारतीय नौसेना और डीआरडीओ के संयुक्त संकल्प को दर्शाता है बल्कि सरकार की 'मेक इन इंडिया' पहल और नवीन प्रौद्योगिकी में 'आत्म-निर्भर' बनने के देश के संकल्प को भी एक बड़ा प्रोत्साहन है। रक्षा उपक्रम भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड इस डिकॉय सिस्टम के उत्पादन का कार्य करेगा।


उपरोक्त समाचारों से आने-वाली परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य-
  • रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) मुख्यालय: नई दिल्ली.
  • रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO) के अध्यक्ष: डॉ. जी. सतीश रेड्डी.
  • नौसेना प्रमुख: एडमिरल करमबीर सिंह.

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search