Monday, 4 May 2020

विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस या विश्व प्रेस दिवस: 3 मई

विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस या विश्व प्रेस दिवस: 3 मई

हर साल 3 मई को दुनिया  भर में विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है। इसे विश्व प्रेस दिवस के रूप में भी जाना जाता है। इस दिन उन सभी पत्रकारों को श्रद्धांजलि दी जाती है, जिन्होंने जनहित के लिए पत्रकारिकता करते हुए अपनी जान गंवा दी। साथ ही, उन लोगो के लिए भी इस दिन का महत्त्व है जो कई बार दुनिया के विभिन्न कोनों से समाचार के जरिए जनता के सामने सच लाने के लिए अपनी जान को जोखिम में डालते है या जिन्हें कठिन परिस्थितियों का सामना करना पड़ता है।


विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस 2020 का विषय है: "Journalism without Fear or Favour".

इस वर्ष के लिए अन्य सहयोगी-विषय हैं:
  • Safety of Women and Men Journalists and Media Workers.
  • Independent and Professional Journalism free from Political and Commercial Influence.
  • Gender Equality in All Aspect of the Media.
विश्व प्रेस  स्वतंत्रता दिवस का इतिहास

संयुक्त राष्ट्र में महासभा ने अफ्रीका प्रेस की स्वतंत्रता को प्रोत्साहित करने के लिए साल 1993 में विश्व प्रेस स्वतंत्रता दिवस की शुरूआत की थी। इसके बाद विंडहॉक घोषणा की गई जो प्रेस की स्वतंत्रता बनाए रखने के लिए की गई थी। चूंकि ये घोषणा 3 मई को की गई थी, इसलिए प्रत्येक वर्ष 3 मई को यह विशेष दिन मनाया जाता है।

उपरोक्त समाचारों से आने-वाली परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य-
  • संयुक्त राष्ट्र के महासचिव: एंटोनियो गुटेरेस.
  • संयुक्त राष्ट्र (यूएन) अंतर्राष्ट्रीय सहयोग को बढ़ावा देने के लिए 24 अक्टूबर 1945 को अंतर्राष्ट्रीय देशों के बीच स्थापित किया गया एक संगठन है

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search