Friday, 1 May 2020

प्रोफेसर टी. प्रदीप को दिया जाएगा साल 2020 का निक्केई एशिया पुरस्कार

प्रोफेसर टी. प्रदीप को दिया जाएगा साल 2020 का निक्केई एशिया पुरस्कार

आईआईटी मद्रास के प्रोफेसर थलप्पिल प्रदीप को निक्केई एशिया पुरस्कार (Nikkei Asia Prize) 2020 के लिए चुना गया है। प्रोफेसर थलप्पिल प्रदीप को निक्की एशिया पुरस्कार 2020 'विज्ञान और प्रौद्योगिकी' की श्रेणी में दिया जाएगा। उन्हें इस पुरस्कार से नैनो-प्रौद्योगिकी आधारित जल शुद्धिकरण (water purification) के उत्कृष्ट कार्य के लिए सम्मानित किया जाएगा। 

अन्य पुरस्कार विजेता है:
  • विज्ञान और प्रौद्योगिकी: प्रोफेसर थलप्पिल प्रदीप (भारत)
  • संस्कृति और समुदाय: राम प्रसाद कदेल (नेपाल)
  • आर्थिक और व्यावसायिक नवाचार: एंथनी टैन (मलेशिया) और टैन होई लिंग (मलेशिया)



प्रोफेसर थलप्पिल प्रदीप ने नैनोटेक्नोलॉजी-सक्षम पानी फिल्टर विकसित करने के लिए किया है जिसे भारत में 2 पैसे प्रति लीटर की दर पर पीने योग्य स्वच्छ पानी मिल सकेगा। उन्हें हाल ही में भारत सरकार द्वारा देश के सर्वोच्च नागरिक सम्मान यानी पद्म श्री पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया था।


निक्केई एशिया पुरस्कार उन व्यक्तियों को दिया जाता है जिन्होंने इस क्षेत्र के सतत विकास और एशिया के बेहतर भविष्य के निर्माण कार्यो में योगदान दिया हो। यह पुरस्कार हर साल तीन श्रेणी अर्थात् "आर्थिक और व्यावसायिक नवाचार", "विज्ञान और प्रौद्योगिकी", और "संस्कृति और समुदाय" में प्रदान किया जाता है। 

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search