Thursday, 7 May 2020

‘Vijyant at Kargil: The Life of a Kargil Hero’ नामक पुस्तक का हुआ विमोचन

‘Vijyant at Kargil: The Life of a Kargil Hero’ नामक पुस्तक का हुआ विमोचन

हाल ही में ‘Vijyant at Kargil: The Life of a Kargil Hero’ नामक एक पुस्तक का विमोचन किया गया। यह पुस्तक वीर चक्र पुरस्कार विजेता (मरणोपरांत) कैप्टेन विजयनत थापर की जीवनी है। इस पुस्तक के लेखक विजयनत के पिता कर्नल वीएन थापर और नेहा द्विवेदी हैं, जो शहीद की बेटी हैं। यह पुस्तक भारतीय सैन्य अकादमी में शामिल होने के बाद विजयनत थापर की यात्रा और उनके अनुभवों पर आधारित है, जहां से वे एक अच्छे अधिकारी बनकर उभरे थे।



कैप्टेन विजयनत थापर के बारे में:

कैप्टेन विजयनत थापर का जन्म 26 दिसंबर 1976 को एक सैन्य परिवार में कर्नल वी एन थापर और तृप्ता थापर के घर हुआ था। वह 4वीं पीढ़ी के सेना अधिकारी हैं। 15 वर्ष की आयु में, राष्ट्रीय रक्षा अकादमी के लिए चुना गया। उन्हें वे 12 दिसंबर, 1998 को भारतीय सेना में शामिल हुए थे'। कारगिल युद्ध के नोल हमले के दौरान 29 जून, 1999 को उनके सिर में गोली लगने के कारण 22 साल की उम्र में उनका निधन हो गया था।

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search