Monday, 2 March 2020

पुणे में आयोजित कार्यशाला में विस्फोटक का पता लगाने वाले डिवाइस "RaIDer-X" हुआ लॉन्च

पुणे में आयोजित कार्यशाला में विस्फोटक का पता लगाने वाले डिवाइस "RaIDer-X" हुआ लॉन्च

महाराष्ट्र के पुणे में विस्फोटक डिटेक्शन (National Workshop on Explosive Detection-2020) पर एक राष्ट्रीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यशाला का आयोजन पुणे के हाई एनर्जी मैटेरियल रिसर्च लेबोरेटरी (HEMRL) द्वारा किया गया। इस कार्यशाला में "RaIDer-X" नामक एक नए विस्फोटक का पता लगाने वाले उपकरण का भी अनावरण किया गया। इस कार्यशाला में विभिन्न डीआरडीओ प्रयोगशालाओं, सेना, सीआरपीएफ, सीआईएसएफ, राज्य पुलिस, शैक्षणिक संस्थानों, उद्योग जगत तथा अन्य सुरक्षा एजेंसियों के प्रतिनिधियों ने भी हिस्सा लिया।


"RaIDer-X":-

रेडर-एक्स को बैंगलोर के भारतीय विज्ञान संस्थान और पुणे के हाई एनर्जी मैटेरियल रिसर्च लेबोरेटरी (HEMRL) द्वारा संयुक्त रूप से विकसित किया गया है। पुणे HEMRL, रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (DRDO) की प्रमुख प्रयोगशाला है। रेडर-एक्स में एक दूरी से विस्फोटकों की पहचान करने की क्षमता है। शुद्ध रूप में अनेक विस्फोटकों के साथ-साथ मिलावट वाले विस्फोटकों का पता लगाने की क्षमता बढ़ाने के लिए सिस्टम में डेटा लाइब्रेरी बनाई जा सकती है। इस डिवाइस के द्वारा छुपाकर रखे गये विस्फोटकों की ढेर का भी पता लगाया जा सकता है।

उपरोक्त समाचारों से आने-वाली परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य-
  • रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन के अध्यक्ष: जी सतीश रेड्डी.
  • मुख्यालय: नई दिल्ली; स्थापित: 1958.

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search