Wednesday, 11 March 2020

केंद्र सरकार ने किसान रेल के तौर-तरीके के लिए एक समिति का किया गठन

केंद्र सरकार ने किसान रेल के तौर-तरीके के लिए एक समिति का किया गठन

भारत सरकार ने किसान रेल के तौर-तरीके को निर्धारित करने के लिए एक समिति का गठन किया है। इस समिति का गठन भारतीय रेलवे के प्रतिनिधियों और कृषि और किसान कल्याण मंत्रालय के तहत किया गया है। सरकार सार्वजनिक-निजी भागीदारी (PPP) मोड के जरिए "किसान रेल" को स्थापित करने की योजना पर काम कर रही है, जिससे से जल्दी खराब होने वाली वस्तुओं की ढुलाई के लिए कोल्ड सप्लाई चेन की सुविधा प्रदान की जाएगी।  


केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण द्वारा 2020-21 के बजट भाषण में मछली, दूध और मांस जैसी जल्दी खराब होने वाली वस्तुओं के लिए एक आसान राष्ट्रीय कोल्ड सप्लाई चेन स्थापित करने के लिए "किसान रेल" की घोषणा की गई थी।


भारतीय कंटेनर निगम लिमिटेड (Container Corporation of India Limited - CONCOR) ने किसान विजन प्रोजेक्ट के तहत, पायलट प्रोजेक्ट के रूप में तापमान नियंत्रित करने वाले पेरिशेबल कार्गो सेंटर शुरू किए हैं। कॉनकॉर द्वारा कार्पोरेट सामाजिक जिम्मेदारी (Corporate Social Responsibility) पहल के जरिए ऐसा किया गया है। इन तापमान नियंत्रित कार्गो केंद्रों को गाजीपुर घाट (उत्तर प्रदेश), न्यू आजादपुर (आदर्श नगर, दिल्ली) और राजा का तालाब (उत्तर प्रदेश) पर शुरू किया गया है।

उपरोक्त समाचारों से आने-वाली परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य-
  • केंद्रीय रेल मंत्री: पीयूष गोयल.
  • केंद्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री: नरेंद्र सिंह तोमर.
  • केंद्रीय वित्त मंत्री: निर्मला सीतारामन.

    Post a comment

    Whatsapp Button works on Mobile Device only

    Start typing and press Enter to search