Friday, 28 February 2020

इस साल Xiaomi अपने स्मार्टफोन में इसरो की NavIC तकनीक का करेगी इस्तेमाल

इस साल Xiaomi अपने स्मार्टफोन में इसरो की NavIC तकनीक का करेगी इस्तेमाल

चीन की टेक दिग्गज कंपनी Xiaomi ने घोषणा की है कि वो ISRO की भारतीय क्षेत्र के नेविगेशन सैटेलाइट सिस्टम, NavIC तकनीक का इस्तेमाल अपने स्मार्टफोन्स में करेगा। यह सुविधा वर्तमान में केवल क्वालकॉम टेक्नोलॉजीज इंक द्वारा अपने कई क्वालकॉम स्नैपड्रैगन मोबाइल प्लेटफ़ॉर्म के लिए इस्तेमाल की गई है और जिसे भारत में सभी Xiaomi स्मार्टफोन में उपलब्ध कराया जाएगा।


Navigation with Indian Constellation (NavIC) क्षेत्रीय भू-स्थिति प्रणाली है, जिसे भारत में और इसके आसपास के मुख्य स्थानों की सटीक स्थिति जानकारी प्रदान करने के लिए ISRO द्वारा डिज़ाइन किया गया। इसे अमेरिका के जीपीएस, रूस के ग्लोनस और यूरोप द्वारा तैयार किए गैलीलियो की तर्ज पर विकसित किया गया है।

इस तकनीक का कार्यान्वयन इसरो और क्वालकॉम के प्रयासों के साथ-साथ Xiaomi के अनुसंधान और विकास प्रयासों के बाद ही संभव हो पाया है। NavIC को भारत में किसी भी जगह की सटीक स्थिति की जानकारी और भारत से 1500 किमी दूर तक किसी भी लोकेशन को ट्रैक करने के लिए विकसित किया गया है। इस प्रणाली में सात उपग्रह शामिल हैं, जिनमें से तीन उपग्रह हैं हिंद महासागर पर भूस्थैतिक कक्षा में घूम रहे, जबकि चार जियोसिंक्रोनस ऑर्बिट में है जो 20 मीटर तक की नीचे की चीजो को ट्रैक कर सकता है।


उपरोक्त समाचार से सभी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य-
  • इसरो के निदेशक: के. सिवन, मुख्यालय: बेंगलुरु; स्थापित: 1969.

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search