Wednesday, 19 February 2020

भारत ब्रिटेन और फ्रांस को पीछे छोड़ बना विश्व की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था

भारत ब्रिटेन और फ्रांस को पीछे छोड़ बना विश्व की पांचवी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था

अमेरिका की थिंक टैंक "वर्ल्ड पॉपुलेशन रिव्यू" की रिपोर्ट के अनुसार, भारत, ब्रिटेन और फ्रांस को पीछे छोड़ साल 2019 में 5 वीं सबसे बड़ी विश्व अर्थव्यवस्था बनकर उभरा है। भारत 2.94 ट्रिलियन डॉलर के सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के साथ विश्व की पांचवीं सबसे बड़ी भारतीय अर्थव्यवस्था बनकर उभरा है। ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था 2.83 ट्रिलियन डॉलर पर आकर थम गई जबकि फ्रांस का GDP 2.71 ट्रिलियन डॉलर रहा। भारत को इन प्रयासों से आर्थिक विकास में तेजी लाने में सहायता मिली है।


क्रय शक्ति समता (purchasing power parity) की दृष्टि से देखें तो जापान और जर्मनी की तुलना में भारत की जीडीपी 10.51 ट्रिलियन है, जो इन देशों से अधिक है। भारत में अधिक आबादी के कारण, भारत की प्रति व्यक्ति जीडीपी 2,170 डॉलर  है, जो तुलना की दृष्टि से देखें तो यह अमेरिका के 62,794 डॉलर के मुकाबले बहुत कम है। भारत की वास्तविक जीडीपी वृद्धि दर लगातार तीसरी तिमाही में घटकर  7.5 प्रतिशत से 5 प्रतिशत पर आने की संभावना है।


रिपोर्ट के अनुसार, भारत का सेवा क्षेत्र अर्थव्यवस्था का 60% और रोजगार का 28% के साथ विश्व में तेजी से बढ़ने वाला क्षेत्र है। विनिर्माण और कृषि अर्थव्यवस्था के दो अन्य महत्वपूर्ण क्षेत्र हैं।


रिपोर्ट में कहा गया कि भारत का आर्थिक उदारीकरण 1990 की दशक में शुरू हुआ था, जिसमे औद्योगिक क्षेत्रीकरण, विदेशी व्यापार और निवेश पर नियंत्रण और राज्य के स्वामित्व वाले उद्यमों का निजीकरण करना शामिल था।


सूची में शामिल शीर्ष 4 अर्थव्यवस्थाएं : 
  • अमेरिका पिछले 149 वर्षों से दुनिया की सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना हुआ है, जिसकी जीडीपी 21.44 ट्रिलियन डॉलर थी, जबकि जीडीपी (पीपीपी) 21.44 ट्रिलियन डॉलर थी। अमेरिका 45 ट्रिलियन डॉलर के प्राकृतिक संसाधनों के साथ दुनिया में दूसरे स्थान पर है।
  • चीन विश्व की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है, जिसने 1989 से 2019 के बीच औसतन 9.52% की दर से ग्रोथ की है। पिछले साल चीन की अर्थव्यवस्था में 29 सालों में सबसे कम वार्षिक विकास दर 6.1% देखी गई थी। चीन की जीडीपी 14.14 ट्रिलियन डॉलर थी। चीन के कुल 23 ट्रिलियन डॉलर के प्राकृतिक संसाधन स्रोत है।
  • जापान 5.15 ट्रिलियन की सांकेतिक जीडीपी के साथ दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बना हुआ है। देश का अधिकांश विकास अपने इलेक्ट्रॉनिक सामान उद्योग जुड़ा है, जो दुनिया में सबसे बड़ा उधोग है।
  • जर्मनी 4 ट्रिलियन की अर्थव्यवस्था के साथ इस सूची में चौथे स्थान पर है। यहां की अर्थव्यवस्था चौथी औद्योगिक क्रांति से गुजर रही है और इंटरनेट उद्योग में बदलाव की संभावनाएं है।

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search