Tuesday, 11 February 2020

कोयला मंत्रालय ने भारत में खानों की स्टार रेटिंग के लिए वेब पोर्टल किया लॉन्च

कोयला मंत्रालय ने भारत में खानों की स्टार रेटिंग के लिए वेब पोर्टल किया लॉन्च

कोयला मंत्रालय (MoC) ने तकनीक की मदद से हरित, सुरक्षित और टिकाऊ खनन परंपराओं को बढ़ावा देने के लिए, कोयला खानों की स्टार रेटिंग के लिए एक वेब पोर्टल शुरू किया है है। कोयला खानों की स्टार रेटिंग के लिए वेब पोर्टल भारत भर में ससंचालित कोयला खानों को स्व-रेटिंग, कोल नियंत्रक संगठन (CCO) द्वारा उनके सत्यापन, अगले मूल्यांकन और अंत में स्टार रेटिंग के आवंटन में सक्षम बनाता है।


इस वेब पोर्टल पर एक सुव्‍यवस्थित तंत्र के माध्यम से प्राप्त की गई स्टार रेटिंग के आधार पर, देश के उच्चतम स्कोरिंग वाले खानों को एक सार्वजनिक समारोह में सम्मानित किया जाएगा।


इसके अलावा कोयला नियंत्रक संगठन द्वारा सभी खानों उनकी स्टार रेटिंग और विशेष रिपोर्टिंग वर्ष का उल्लेख करते हुए, एक आधिकारिक प्रमाण पत्र दिया जाएगा। भारत में कोल माइंस के लिए स्टार रेटिंग नीति इस प्रकार निर्धारित की जाएगी:
  •  91 से 100 % तक की स्‍कोर वाली खानों को 5 स्टार दिया जाएगा
  • 81 से 90% तक की स्‍कोर वाली खानों को 4 स्टार दिया जाएगा
  • 71 से 80% तक की स्‍कोर वाली खानों को 3 स्टार दिया जाएगा
  • 61 से 70% तक की स्‍कोर वाली खानों को 2 स्टार दिया जाएगा
  • 41 से 60% तक की स्‍कोर वाली खानों को 1 स्टार दिया जाएगा
  • 0 से 40% तक स्कोर करने वाली खानों को कोई स्टार नहीं मिलेगा

कोयला मंत्रालय द्वारा भारत में कोयला खानों के लिए स्टार रेटिंग नीति तैयार की गई है। इस नीति में 7 मॉड्यूलों के तहत मूल्यांकन 50 मानक (खुली खदानों के लिए) और 47 मूल्यांकन मापदंडों (भूमिगत खानों के लिए) निर्धारित किए गए थे, जो इस प्रकार है:-
  • पर्यावरण संबंधी पैरामीटर
  • आर्थिक प्रदर्शन
  • कामगार संबंधित अनुपालन
  • खनन संचालन संबंधित पैरामीटर
  • सुरक्षा तथा संरक्षा संबंधित पैरामीटर
  • पुनर्वास और पुनर्वास संबंधी पैरामीटर
  •  प्रौद्योगिकियों का अंगीकरण: सर्वश्रेष्ठ खनन प्रथाओं

उपरोक्त समाचार से सभी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण तथ्य-
  • कोयला मंत्रालय के केंद्रीय मंत्री: प्रल्हाद जोशी

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search