Wednesday, 15 January 2020

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग का 145 वां स्थापना दिवस

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग का 145 वां स्थापना दिवस


भारतीय मौसम विज्ञान विभाग  (IMD) का स्थापना दिवस

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) 15 जनवरी को अपना 145 वां स्थापना दिवस मना रहा है. यह 1875 में स्थापित किया गया था. यह दिन पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय द्वारा मनाया जाएगा, जिसके तहत आईएमडी (भारतीय मौसम विभाग) कार्य करता है.

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग का इतिहास
भारतीय मौसम विभाग की स्थापना 1875 में कलकत्ता में इसके मुख्यालय के साथ की गई थी. लेकिन बाद में इसे 1905 में शिमला, 1928 में पुणे और फिर 1944 में दिल्ली स्थानांतरित कर दिया गया.

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग क्या है?
भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (IMD) भारत सरकार के पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के तहत काम करता है. यह मौसम संबंधी अनुमान, मौसम की भविष्यवाणी और भूकंपीय विज्ञान के लिए जिम्मेदार प्रमुख एजेंसी है. IMD का मुख्यालय दिल्ली में है और यह भारत और अंटार्कटिका के सैकड़ों ऑब्जरवेशन स्टेशनों का संचालन करता है. इसके क्षेत्रीय कार्यालय मुंबई, कोलकाता, नागपुर और पुणे में हैं. 

भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की हाल ही की उपलब्धियां :
  • विश्व मौसम विज्ञान संगठन ने भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की 5 वेधशालाओं (observatories) को 100 से अधिक वर्षों तक एक लॉन्ग टर्म ऑब्जरविंग स्टेशन के रूप में मान्यता दी.  ये 5 वेधशालाएँ हैं:
(1) चेन्नई (नुंगमबक्कम)
(2) मुंबई (कोलाबा)
(3) पंजिम
(4) पुणे
(5) तिरुवनंतपुरम
  • RCS-UDAN योजना के तहत नए  Aeronautical Meteorological Stations (वैमानिकी मौसम केंद्रों) को शुरू किया गया. 
  • भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की मॉडलिंग और  फॉरकास्टिंग सिस्टम 
  • NCMRWF और IITM के सहयोग से IMD ने थंडरस्टॉर्म और लाइटनिंग मॉडलिंग और वार्निंग सिस्टम चालू किया.  
  • ग्लोबल फोरकास्ट सिस्टम (GFS) मॉडल अपग्रेड किया गया और 10 दिनों के पूर्वानुमान को उत्पन्न करने के लिए दिन में 4 बार चलाया गया.
भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के Communication System Networks :
  • IMD ने आम जनता के लिए नई वेबसाइट : www.mausam.imd.gov.in लांच की है और Agromet Advisory Services के लिए मोबाइल एप ‘MEGHDOOT’ तैयार की है   
  • साल 2019 के दौरान दिल्ली के लिए Air Quality Early Warning System की नई वेबसाइट लांच की गयी. 
 भारतीय मौसम विभाग के पुरस्कार और प्रशंसा
  • भारतीय मौसम विज्ञान सोसायटी ने 2019 में Weather &Climate Services में प्रकाशित बेस्ट रिसर्च पेपर  के लिए डॉ. एच. आर. बिस्वास को सम्मानित किया गया. 
  • डॉ. एम. महापात्र डीजी, आईएमडी को 2019 में आईएमएस एंड इंडियन क्लाइमेट कांग्रेस की फैलोशिप से सम्मानित किया गया था.
  • भारत के राष्ट्रपति ने 2019 के स्वतंत्रता दिवस समारोह के लिए सटीक पूर्वानुमान प्रदान करने के लिए IMD की सराहना की.
  • नेशनल ज्योग्राफिक चैनल ने 7 अक्टूबर 2019 को "मेगा साइक्लोन FANI" पर एक कहानी प्रसारित की, जिसमें 'FANI' के लिए शुरुआती चेतावनी सेवाओं में IMD की भूमिका पर प्रकाश डाला गया.


    सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:मौसम विज्ञान, भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के महानिदेशक: मृत्युंजय महापात्रा।

Post a comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search