Monday, 25 September 2017

मसाला बांड को अब ईसीबी के रूप में माना जायेगा: आरबीआई

मसाला बांड को अब ईसीबी के रूप में माना जायेगा: आरबीआई


भारतीय रिज़र्व बैंक (आरबीआई) ने घोषणा की कि मसाला बांड को 3 अक्टूबर 2017 से बाह्य वाणिज्यिक ऋण(External Commercial Borrowings (ECB)) माना जाएगा जिससे एफपीआई द्वारा अधिक निवेश प्राप्त किया जाएगा.

मसाला बांड रुपए-डोमिनेटड-ओवरसीज़ बांड हैं. वर्तमान में, कॉरपोरेट बॉन्ड में विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) द्वारा निवेश की सीमा 2,44,323 करोड़ रुपये है. इसमें 4,001 करोड़ रुपये के मसाला बांड शामिल हैं.

उपरोक्त समाचार से महत्वपूर्ण तथ्य-
  • उर्जित पटेल, भारतीय रिजर्व बैंक के 24 वें राज्यपाल हैं.
स्त्रोत- द हिन्दू

Post a Comment

Whatsapp Button works on Mobile Device only

Start typing and press Enter to search