Home   »   पहलवान रवि कुमार दहिया को फ्रांस...

पहलवान रवि कुमार दहिया को फ्रांस के ग्रां प्री में कांस्य पदक

पहलवान रवि कुमार दहिया को फ्रांस के ग्रां प्री में कांस्य पदक |_30.1

टोक्यो ओलंपिक के रजत पदक विजेता रवि कुमार दहिया ने फ्रांस के नीस में प्रतिष्ठित ग्रैंड प्रिक्स डी फ्रांस हेनरी डेग्लेन कुश्ती टूर्नामेंट में कांस्य पदक हासिल किया।

टोक्यो ओलंपिक के रजत पदक विजेता रवि कुमार दहिया, जिन्हें चोटों के कारण झटका लगा, ने फ्रांस के नीस में आयोजित प्रतिष्ठित ग्रां प्री डी फ्रांस हेनरी डेग्लेन कुश्ती टूर्नामेंट में कांस्य पदक हासिल करके कुश्ती क्षेत्र में विजयी वापसी की।

प्रतिकूल परिस्थितियों पर काबू पाना: दहिया की वापसी की यात्रा

पूरे 2023 सीज़न के दौरान अंतरराष्ट्रीय परिदृश्य से दहिया की अनुपस्थिति को अभ्यास के दौरान लगी चोटों के कारण जिम्मेदार ठहराया गया था। झटका, जिसमें फरवरी में उनके दाहिने घुटने में एंटीरियर क्रूसिएट लिगामेंट (एसीएल) और मेडियल कोलैटरल लिगामेंट (एमसीएल) की चोटें शामिल थीं, ने उन्हें अप्रैल 2023 में एशियाई चैंपियनशिप से बाहर कर दिया।

जुलाई में एशियाई खेलों के लिए राष्ट्रीय ट्रायल में प्रतिस्पर्धा करने के प्रयासों के बावजूद, गंभीर चोट के कारण उन्हें शेष वर्ष के लिए बाहर कर दिया गया। दुर्भाग्य से, इसका मतलब बेलग्रेड में विश्व कुश्ती चैंपियनशिप को मिस करना था, जो पेरिस 2024 ओलंपिक के लिए एक महत्वपूर्ण क्वालीफाइंग इवेंट था।

ग्रांड प्रिक्स डी फ़्रांस हेनरी डेग्लेन में भव्य वापसी

ग्रांड प्रिक्स डी फ्रांस हेनरी डेग्लेन में दहिया की मैट पर वापसी को प्रत्याशा और उत्साह के साथ स्वागत किया गया। 61 किग्रा फ्रीस्टाइल वर्ग में प्रतिस्पर्धा करते हुए, उन्होंने पूरे टूर्नामेंट में अपनी लचीलापन और कौशल का प्रदर्शन किया।

कांस्य की राह: दहिया की बाउट्स

  • राउंड ऑफ़ 16 की जीत: दहिया ने राउंड ऑफ़ 16 में जर्मनी के जूलियन ज़िन्सर पर तकनीकी श्रेष्ठता के साथ जीत हासिल करके अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया, जो 13-2 के स्कोर के साथ समाप्त हुआ।
  • क्वार्टर-फ़ाइनल विजय: भारतीय पहलवान ने क्वार्टर-फ़ाइनल में कज़ाकिस्तान के ज़ंगार काबिलबेकोव पर कड़ी टक्कर के साथ 12-6 से जीत के साथ अपनी जीत का सिलसिला जारी रखा, जिससे संभावित पदक के लिए मंच तैयार हो गया।
  • सेमीफ़ाइनल बाधा: दहिया को सेमीफ़ाइनल में फ़्रांस के अरमान एलॉयन के ख़िलाफ़ कड़ी चुनौती का सामना करना पड़ा, लेकिन उन्हें 6-3 से हार का सामना करना पड़ा। इस झटके के बावजूद, उनके प्रदर्शन ने उन्हें कांस्य पदक मुकाबले में जगह दिला दी।
  • कांस्य पदक का गौरव: कांस्य पदक के मुकाबले में दहिया का सामना कजाकिस्तान के कैरात अमिरतायेव से हुआ। शुरुआती मिनटों में 2-4 से पिछड़ने के बावजूद, दहिया ने अपने अनुभव और कौशल का प्रदर्शन किया और अंततः 10-4 से मुकाबला जीतकर कांस्य पदक हासिल किया।

भविष्य की संभावनाएँ: भार वर्ग परिवर्तन और ओलंपिक क्वालीफायर

भविष्य को देखते हुए, रवि कुमार दहिया आगामी आयोजनों के लिए 61 किग्रा से 57 किग्रा भार वर्ग में स्थानांतरित होकर एक रणनीतिक कदम उठाने के लिए तैयार हैं। उनकी अगली चुनौतियों में अप्रैल में किर्गिस्तान में होने वाला एशियाई ओलंपिक खेल क्वालीफायर और मई में तुर्की में होने वाला विश्व ओलंपिक क्वालीफायर शामिल हैं। ये प्रतियोगिताएं पेरिस 2024 ओलंपिक के लिए उनकी पात्रता निर्धारित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगी।

परीक्षा से सम्बंधित महत्वपूर्ण प्रश्न

1. किस देश ने ग्रांड प्रिक्स डी फ्रांस हेनरी डेग्लेन कुश्ती टूर्नामेंट की मेजबानी की?

2. रवि दहिया के आगामी आयोजनों में किस भार वर्ग में प्रतिस्पर्धा करने की उम्मीद है?

कृपया अपनी प्रतिक्रियाएँ टिप्पणी अनुभाग में साझा करें!!

 

पहलवान रवि कुमार दहिया को फ्रांस के ग्रां प्री में कांस्य पदक |_40.1

FAQs

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के ठीक बाद ‘प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना’ का ऐलान किया। यह क्या है?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या में राम मंदिर प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम के ठीक बाद ‘प्रधानमंत्री सूर्योदय योजना’ का ऐलान किया। जिसके तहत देश में 1 करोड़ घरों की छत पर सौर ऊर्जा पैनल लगाए जाएंगे। इसे लेकर पीएम मोदी ने एक बैठक की अध्यक्षता भी की।