Home   »   विश्व आदिवासी दिवस 2023: तारीख, थीम,...

विश्व आदिवासी दिवस 2023: तारीख, थीम, महत्व और इतिहास

विश्व आदिवासी दिवस 2023: तारीख, थीम, महत्व और इतिहास_3.1

आज, 9 अगस्त 2023, विश्व आदिवासी दिवस है। यह दिन संयुक्त राष्ट्र द्वारा विश्व के आदिवासी जनजातियों के अधिकारों की संरक्षण और सुरक्षा को बढ़ावा देने के लिए मनाया जाता है। इस दिन आदिवासी जनजातियों के योगदान और उपलब्धियों का जश्न मनाया जाता है।

दुनिया भर में 90 से अधिक देशों में 476 मिलियन से अधिक आदिवासी जनजातियाँ रहती हैं। वे दुनिया की जनसंख्या के लगभग 5% का हिस्सा हैं, लेकिन वे दुनिया के गरीबों में से 15% से अधिक का हिस्सा हैं। आदिवासी जनजातियाँ अक्सर समाज में सीमित किए जाते हैं और उन पर भेदभाव किया जाता है, और उन्हें गरीबी, शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं की पहुँच की कमी, और पर्यावरण के प्रलय जैसी कई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है।

इस वर्ष के विश्व आदिवासी दिवस का थीम है “Indigenous Youth as Agents of Change for Self-determination.”  यह थीम दर्शाती है कि आदिवासी युवा अपनी समुदायों में और दुनिया में कितनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं। आदिवासी युवा अक्सर सामाजिक और पर्यावरणिक आंदोलनों के मुख्य अग्रणी होते हैं, और वे अपनी संस्कृतियों और परंपराओं के भविष्य को आकार देने की मार्गदर्शन करने में आगे बढ़ रहे हैं।

विश्व आदिवासी दिवस का महत्व विश्व भर में आदिवासी जनजातियों के सामने आने वाली चुनौतियों के बारे में जागरूकता बढ़ाना है, जैसे कि भेदभाव, गरीबी और शिक्षा और स्वास्थ्य सेवाओं की पहुँच की कमी। यह एक ऐसा दिन भी है जब हम विश्व भर में आदिवासी जनजातियों के लिए एक बेहतर भविष्य की दिशा में काम करने का संकल्प लेते हैं।

विश्व आदिवासी जनजातियों के अंतर्राष्ट्रीय दिवस, जिसे विश्व आदिवासी दिवस के रूप में भी जाना जाता है, पहली बार दिसंबर 1994 में संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा प्रकट किया गया था। 9 अगस्त की तारीख का चयन 1982 में मानव अधिकारों के संरक्षण और संवर्धन के लिए किया गया था।

Find More Important Days Here

World Tribal Day 2023: Date, Theme, Significance and History_100.1

 

FAQs

इस वर्ष के विश्व आदिवासी दिवस का थीम है?

इस वर्ष के विश्व आदिवासी दिवस का थीम है “Indigenous Youth as Agents of Change for Self-determination.”