Home   »   18 अप्रैल को विश्व स्तर पर...

18 अप्रैल को विश्व स्तर पर मनाया गया विश्व धरोहर दिवस

 

18 अप्रैल को विश्व स्तर पर मनाया गया विश्व धरोहर दिवस |_50.1

विश्व धरोहर दिवस अथवा विश्व विरासत दिवस (World Heritage Day), प्रतिवर्ष 18 अप्रैल को मनाया जाता है. यह दिवस हमारे आसपास दिखाई देने वाली सांस्कृतिक विरासत के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए मनाया जाता है. इसका उद्देश्य ऐतिहासिक स्मारकों और स्थलों को बढ़ावा देना भी है, जिनके माध्यम से हम वास्तव में एक समुदाय की सांस्कृतिक अखंडता को संरक्षित कर सकते हैं.

इस वर्ष का विषय “कॉम्प्लेक्स पास्ट्स: डाइवर्स फ्यूचर्स (Complex Pasts: Diverse Futures)” अधिक समावेश और विविधता की मान्यता के लिए वैश्विक कॉल को स्वीकार करने की आवश्यकता को दर्शाता है.

Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

विश्व विरासत दिवस का इतिहास:

अंतर्राष्ट्रीय स्मारक और स्थल परिषद (International Council on Monuments and Sites-ICOMOS) ने 1982 में 18 अप्रैल को विश्व धरोहर दिवस के रूप में घोषित किया. इसे 1983 में यूनेस्को की महासभा द्वारा अनुमोदित किया गया था, जिसका उद्देश्य सांस्कृतिक विरासत, स्मारकों के महत्व और उनका संरक्षण के बारे में जागरूकता बढ़ाना था.

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • यूनेस्को की स्थापना: 4 नवंबर 1946;
  • यूनेस्को का मुख्यालय: पेरिस, फ्रांस;
  • यूनेस्को के महानिदेशक: ऑड्रे आज़ोले;
  • अंतर्राष्ट्रीय स्मारक और स्थल परिषद (ICOMOS) का मुख्यालय : पेरिस, फ्रांस;
  • अंतर्राष्ट्रीय स्मारक और स्थल परिषद (ICOMOS) की स्थापना: 1965;
  • अंतर्राष्ट्रीय स्मारक और स्थल परिषद के अध्यक्ष: तोशीयुकी कोनो.
Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *