Home   »   अमेरिका ने मधुमक्खियों के लिए दुनिया...

अमेरिका ने मधुमक्खियों के लिए दुनिया के पहले टीके के उपयोग को मंजूरी दी

अमेरिका ने मधुमक्खियों के लिए दुनिया के पहले टीके के उपयोग को मंजूरी दी |_50.1

अमेरिका ने मधुमक्खियों के लिए दुनिया के पहले टीके के उपयोग को मंजूरी दे दी है। यह अमेरिकी फुल ब्रूड रोग से होने वाली मौतों को रोकने के लिए बनाया गया था। यूनाइटेड स्टेट्स डिपार्टमेंट ऑफ एग्रीकल्चर (यूएसडीए) ने बायोटेक कंपनी डालन एनिमल हेल्थ द्वारा विकसित मधुमक्खियों के लिए दुनिया के पहले टीके के लिए सशर्त लाइसेंस दिया है। यह टीका शुरू में वाणिज्यिक मधुमक्खी पालकों के लिए उपलब्ध होगा और इसका उद्देश्य बैक्टीरियम पैनीबैसिलस लार्वा के कारण होने वाली अमेरिकी फुल ब्रूड बीमारी से बचाव करना है। यह रोग पित्ती को कमजोर कर सकता है और मार सकता है, संयुक्त राज्य अमेरिका के कुछ हिस्सों में एक चौथाई पित्ती संक्रमित पाए गए हैं।

Bank Maha Pack includes Live Batches, Test Series, Video Lectures & eBooks

डालन एनिमल हेल्थ के सीईओ एनेट क्लेसर ने एक बयान में कहा कि वैक्सीन “मधुमक्खियों की सुरक्षा में सफलता” के रूप में काम कर सकती है। बायोटेक फर्म के अनुसार, बैक्टीरिया को वर्कर मधुमक्खियों द्वारा रानी मधुमक्खी को दिए जाने वाले रॉयल जेली फीड में शामिल किया जाता है, जो तब फीड को निगला जाता है और उसके अंडाशय में कुछ वैक्सीन रखता है। यह मधुमक्खी के लार्वा को रोग प्रतिरोधक क्षमता प्रदान करता है क्योंकि वे बीमारी से मृत्यु को कम करते हैं।

 

यूएसडीए के मुताबिक, अमेरिका ने 2006 से हनी बी कॉलोनियों में वार्षिक कमी देखी है। संयुक्त राष्ट्र के खाद्य और कृषि संगठन के अनुसार, मधुमक्खियों, पक्षियों और चमगादड़ों जैसे परागण कर्ता दुनिया के लगभग एक तिहाई फसल उत्पादन के लिए जिम्मेदार हैं। अध्ययन में कहा गया है कि कृषि कीटनाशक अधिक मधुमक्खियों को मारते हैं। अमेरिकी फुल ब्रूड रोग मधुमक्खी पालकों के लिए एक चुनौती बन गया है, क्योंकि यह अत्यधिक संक्रामक है और इसका कोई इलाज नहीं है। उपचार के एकमात्र तरीके में संक्रमित मधुमक्खियों की कॉलोनी को छत्तों और उपकरणों के साथ जलाने और आस-पास की कॉलोनियों को एंटीबायोटिक दवाओं के साथ इलाज करने की आवश्यकता होती है।

अमेरिका ने मधुमक्खियों के लिए दुनिया के पहले टीके के उपयोग को मंजूरी दी |_60.1

 

FAQs

अमेरिका के वर्तमान राष्ट्रपति कौन है?

जो बाइडन

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *