Home   »   केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने...

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अगरतला में जीएसटी भवन का उद्घाटन किया

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अगरतला में जीएसटी भवन का उद्घाटन किया |_30.1

केंद्रीय वित्त और कॉरपोरेट कार्य मंत्री निर्मला सीतारमण ने अगरतला, त्रिपुरा में ‘जीएसटी भवन’ का उद्घाटन किया, जो कि सीबीआईसी के तहत सीजीएसटी, सीएक्स और सीमा शुल्क कार्यालय, अगरतला, गुवाहाटी जोन के लिए एक परियोजना है। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा कि जीएसटी लागू होने से जहां राज्यों की प्रगति हो रही हैं, वहीं देश की अर्थव्यस्था भी मजूबत हो रही है।

जीएसटी भवन अगरतला शहर के मध्य में स्थित एक कार्यालय परिसर है। यह परियोजना अगरतला के सबसे पसंदीदा स्थानों में से एक अहम स्थल पर स्थित है। यह परियोजना मंत्री बारी रोड, अगरतला में स्थित है और सभी करदाताओं तक इसकी त्वरित एवं अत्‍यंत आसान पहुंच है। यह नव निर्मित अगरतला हवाई अड्डा परिसर से लगभग 10 किमी की दूरी पर स्थित है। ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के दौरान ‘अमृत काल’ में इस परियोजना का उद्घाटन निश्चित रूप से ‘नए भारत’ की ताकत को दर्शाता है।

इस अवसर पर उपस्थित सम्मानित गणमान्‍यजनों को संबोधित करते हुए वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने जीएसटी भवन के उद्घाटन पर त्रिपुरा के लोगों को बधाई दी। उन्होंने बेहतरीन अवसंरचना के महत्व पर जोर दिया, जिसका उपयोग करदाताओं को बेहतर तरीके से सेवा प्रदान करने के लिए किया जा सकता है, जिसके परिणामस्वरूप राजस्व संग्रह बढ़ेगा। इस भवन से आम नागरिकों को यहां आने के बाद जीएसटी संबंधी मामलों में सुविधाजनक माहौल मिलेगा। इससे आम जनता तक अधिकारियों की पहुंच बढ़ जाएगी।

जीएसटी के लागू होने से पहले त्रिपुरा को वित्त वर्ष 2016-17 में केंद्रीय बिक्री कर (सीएसटी) के रूप में केवल 4.21 करोड़ रुपये प्राप्त हुए थे, जबकि इस राज्य ने वित्त वर्ष 2022-23 में अंतर-राज्य व्यापार से 982.50 करोड़ रुपये का आईजीएसटी एकत्र किया। इसके अलावा, जीएसटी भवन का उद्घाटन हो जाने के साथ ही लोगों को जीएसटी के लाभों के बारे में जागरूक करने और अधिक-से-अधिक लोगों को नामांकन के लिए प्रोत्साहित करने के लिए राज्य सरकार के साथ मिलकर लोगों से संपर्क साधना अत्‍यंत महत्वपूर्ण हो गया है।

 

सीजीएसटी भवन के बारे में

सीजीएसटी भवन के प्रस्ताव को जुलाई 2019 में सीपीडब्ल्यूडी द्वारा निर्माण के लिए मंजूरी दी गई थी। 0.71 एकड़ भूमि, जिसका चयन भवन के निर्माण के लिए किया गया था, सीमा शुल्क प्रभाग, अगरतला के स्वामित्व में थी। इमारत लगभग 28 करोड़ रुपये की लागत से बनकर तैयार हुई और दिसंबर 2022 में सीपीडब्ल्यूडी द्वारा यह इमारत सौंप दी गई। इस इमारत का कुल क्षेत्रफल लगभग 3,000 वर्ग मीटर है।

यह इमारत भूतल सहित कुल 8 मंजिल हैं। परिसर और इमारत को बाहर, अंदर तथा छत पर गमले में लगे पौधों से सजाया गया है। इस इमारत में ध्वज फहराने वाले दो खंभे हैं, एक भूतल पर है और एक छत पर है। इस इमारत में विशेष भूमिगत केबलों द्वारा संचालित 11 केवीए ट्रांसफार्मर है और बिजली जाने की स्थिति से निपटने के लिए एक डीजी सेट भी है। दिव्यांगजनों के लिए भवन के प्रवेश द्वार तक एक रैंप है और प्रवेश द्वार पर एक स्वागत कक्ष है।

भूतल पर अधिकारियों के लिए एक विशेष कैंटीन है। इसके अलावा भूतल पर मालखाना, शयनकक्ष और सेवा केंद्र स्थित हैं। अधिकारियों और आगंतुकों की जरूरतों को पूरा करने के लिए 02 लिफ्ट उपलब्ध कराई गई हैं। सम्मेलन कक्ष दूसरी मंजिल पर स्थित है। पहली, दूसरी और तीसरी मंजिल पर सीजीएसटी आयुक्तालय कार्यालय है। ऑडिट सर्कि‍ल और सीमा शुल्क प्रभाग चौथी मंजिल पर हैं और सीमा शुल्क प्रभाग पूरी पांचवीं मंजिल पर स्थित है। अतिथि गृह 6वीं मंजिल पर और सभागार 7वीं मंजिल पर स्थित हैं। अगरतला में अग्निशमन प्रणाली और पूर्व चेतावनी प्रणाली सर्वोत्तम गुणवत्ता वाली हैं। लगभग हर मंजिल पर एक महिला शौचालय और वाटर फिल्टर है।

Find More News on Economy Here

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने अगरतला में जीएसटी भवन का उद्घाटन किया |_40.1

 

FAQs

GST का उद्देश्य क्या है?

GST का उद्देश्य अप्रत्यक्ष करों की संख्या को कम करना और भारतीय बाज़ार को एकजुट करना है।