Home   »   तमिलनाडु सरकार का आईपीपीबी के साथ...

तमिलनाडु सरकार का आईपीपीबी के साथ डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र के लिए समझौता

 

तमिलनाडु सरकार का आईपीपीबी के साथ डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र के लिए समझौता |_30.1

तमिलनाडु सरकार ने डाक विभाग की घर-घर सेवाओं के माध्यम से पेंशनभोगियों से जीवन प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक (आईपीपीबी) के साथ एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए। आईपीपीबी इसे 70 रुपये प्रति डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र की कीमत पर घर-घर सेवाओं तक पहुंचाएगा। लगभग 7.15 लाख राज्य सरकार के पेंशनभोगी/पारिवारिक पेंशनभोगी हर साल जुलाई, अगस्त और सितंबर के दौरान अपना जीवन प्रमाण पत्र जमा करते हैं।

RBI बुलेटिन – जनवरी से अप्रैल 2022, पढ़ें रिज़र्व बैंक द्वारा जनवरी से अप्रैल 2022 में ज़ारी की गई महत्वपूर्ण सूचनाएँ



 हिन्दू रिव्यू अप्रैल 2022, डाउनलोड करें मंथली हिंदू रिव्यू PDF  (Download Hindu Review PDF in Hindi)


प्रमुख बिंदु:

  • हाल ही में, राज्य सरकार ने वृद्ध पेंशनभोगियों/पारिवारिक पेंशनभोगियों के लिए व्यक्तिगत रूप से आने की कठिनाई से बचने के लिए जीवन प्रमाण पोर्टल के माध्यम से डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए, इस वर्ष जुलाई से सितंबर के दौरान पेंशनभोगियों के लिए आईपीपीबी की डोरस्टेप सेवाओं सहित वार्षिक रूप से जमा करने के पांच तरीकों के आदेश जारी किए ।
  • इस समय, पेंशनभोगियों/पारिवारिक पेंशनभोगियों द्वारा तीन विकल्पों अर्थात प्रत्यक्ष मस्टरिंग (शारीरिक उपस्थिति); डाक के माध्यम से जीवन प्रमाण पत्र जमा करना; और बायोमेट्रिक डिवाइस का उपयोग करके जीवन प्रमाण पोर्टल के माध्यम से डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र (डीएलसी) में से किसी एक का प्रयोग करके मस्टरिंग किया जा सकता है। COVID-19 महामारी के कारण, पिछले दो वर्षों के दौरान वार्षिक जमाखोरी से छूट दी गई थी।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक के सीईओ: जे. वेंकटरामु;
  • इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक मुख्यालय स्थान: नई दिल्ली;
  • इंडिया पोस्ट पेमेंट्स बैंक की स्थापना: 1 सितंबर 2018।

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *