Home   »   घरेलू ‘नूरी रॉकेट’ का उपयोग करके...

घरेलू ‘नूरी रॉकेट’ का उपयोग करके दक्षिण कोरिया ने अपना पहला उपग्रह कक्षा में भेजा

]घरेलू 'नूरी रॉकेट' का उपयोग करके दक्षिण कोरिया ने अपना पहला उपग्रह कक्षा में भेजा |_50.1


दक्षिण कोरिया ने घरेलू रॉकेट का उपयोग करते हुए अपना पहला उपग्रह सफलतापूर्वकलॉन्च किया। इससे देश की बढ़ती एयरोस्पेस महत्वाकांक्षाओं को बढ़ावा मिला है और यह साबित हुआ कि प्रतिद्वंद्वी उत्तर कोरिया के साथ तनाव के बीच बड़ी मिसाइलों का निर्माण करने और जासूसी उपग्रहों को लॉन्च करने के लिए आवश्यक प्रौद्योगिकियां दक्षिण कोरिया के पास हैं। यहाँ के विज्ञान मंत्रालय (Science Ministry ) ने बताया कि तीन चरणों वाले नूरी रॉकेट (Nuri rocket) ने एक दक्षिणी आइलैंड पर दक्षिण कोरियाई स्पेस लांच फैसिलिटी से 435 मील की लक्ष्य ऊंचाई पर एक कार्यरत “परफॉर्मेंस वेरिफिकेशन (Performance Verification)” उपग्रह को सफलतापूर्वक लॉन्च किया।

डाउनलोड करें मई 2022 के महत्वपूर्ण करेंट अफेयर्स प्रश्नोत्तर की PDF, Download Free PDF in Hindi


हिन्दू रिव्यू मई 2022, डाउनलोड करें मंथली करेंट अफेयर PDF (Download Hindu Monthly Current Affair PDF in Hindi)



Buy Prime Test Series for all Banking, SSC, Insurance & other exams

प्रमुख बिंदु (Key Points):

  • अंटार्कटिका में एक मानव रहित दक्षिण कोरियाई स्टेशन को उपग्रह से उसकी स्थिति के बारे में सूचित करने के संकेत मिले। यह चार छोटे उपग्रहों को ले जा रहा है जिन्हें आने वाले दिनों में पृथ्वी अवलोकन (Earth observation) और अन्य मिशनों के लिए लॉन्च किया जाएगा।
  • लॉन्च फैसिलिटी में एक लाइव-स्ट्रीम प्रेस कॉन्फ्रेंस में, विज्ञान मंत्री ली जोंग-हो ने घोषणा की कि “कोरिया गणराज्य के विज्ञान और प्रौद्योगिकी ने एक उल्लेखनीय प्रगति हासिल की है (the science and technology of the Republic of Korea have achieved a remarkable advance)।” लोगों के साथ मिलकर सरकार अंतरिक्ष शक्ति बनने की दिशा में अपना साहसिक अभियान ज़ारी रखेगी।
  • राष्ट्रपति यूं सुक येओल ने एक वीडियो कॉन्फ्रेंस में वैज्ञानिकों और अन्य लॉन्च प्रतिभागियों को बधाई दी और उनके कार्यालय के अनुसार, एक राज्य एयरोस्पेस एजेंसी बनाने के अपने अभियान की प्रतिज्ञा को बनाए रखने का वादा किया।
  • लॉन्च के साथ, दक्षिण कोरिया घरेलू तकनीक का उपयोग करके सफलतापूर्वक उपग्रह लॉन्च करने वाला दुनिया का दसवां देश बन गया।
  • यह दक्षिण कोरिया द्वारा दूसरा नूरी रॉकेट लॉन्च था। जब पिछले साल अक्टूबर में पहला प्रयास किया गया था, तो तीसरे चरण के रॉकेट का इंजन समय से पहले जल गया था, जिससे फेक पेलोड (fake payload) को उचित ऊंचाई तक पहुंचने के बाद कक्षा में प्रवेश करने से रोक दिया गया था।

दक्षिण कोरिया के बारे में (About South Korea):

  • दक्षिण कोरिया सेलफोन, कारों और अर्धचालकों का एक महत्वपूर्ण निर्माता है, इसकी अर्थव्यवस्था दुनिया में दसवीं सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था है।
  • लेकिन अपने एशियाई पड़ोसियों चीन, भारत और जापान की तुलना में, इसके पास कम उन्नत अंतरिक्ष विकास कार्यक्रम है।
  • साल 2012 और 2016 में, उत्तर कोरिया ने पृथ्वी अवलोकन उपग्रहों को लॉन्च किया, हालांकि इस बात का कोई सबूत नहीं है कि किसी ने कभी भी चित्रों या डेटा को अंतरिक्ष से पृथ्वी पर रिले किया है।
  • उत्तर कोरियाई प्रक्षेपणों के परिणामस्वरूप संयुक्त राष्ट्र द्वारा आर्थिक प्रतिबंध लगाए गए थे, जिसे देश की प्रतिबंधित लंबी दूरी की मिसाइल परीक्षण के लिए एक कवर/हर्ज़ाना माना जाता था।
  • दक्षिण कोरिया ने 1990 के दशक की शुरुआत से कई उपग्रहों को कक्षा में भेजा है, हालांकि प्रत्येक प्रक्षेपण स्थान या उपयोग किए गए रॉकेट का प्रकार विदेशी था।
  • दक्षिण कोरिया ने 2013 में पहली बार अपने ही देश से सफलतापूर्वक एक उपग्रह प्रक्षेपित किया था, हालाँकि इसमें भी, रॉकेट का पहला चरण रूस में बनाया गया था।

सभी प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण टेकअवे:

  • दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति: यूं सुक येओल (Yoon Suk Yeol)
  • दक्षिण कोरिया का राष्ट्रीय फूल: मुगुनघ्वा/रोज ऑफ शेरोन (Mugunghwa (Rose of Sharon))

Find More International News

घरेलू 'नूरी रॉकेट' का उपयोग करके दक्षिण कोरिया ने अपना पहला उपग्रह कक्षा में भेजा |_60.1

Thank You, Your details have been submitted we will get back to you.

Leave a comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *